स्कूल छोड़ अपनी इलेक्ट्रिक दुकान चलाते मिले शिक्षक

एसडीएम ने किया स्कूलों व आंगनवाड़ी केंद्रों का निरीक्षण

✍️इम्तियाज खान
बड़वानी। देश के सबसे पिछड़े विकास खंडों में शुमार जिले का दूरस्थ अंचल के पाटी विकासखंड में स्वास्थ्य और शिक्षा के काफी बुरे हाल है। शुक्रवार को एसडीएम घनश्याम धनगर ने उक्त क्षेत्र के स्कूलों, आंगनवाडिय़ों केंद्र का आकस्मिक निरीक्षण किया। इस दौरान स्कूलों में शिक्षक अनुपस्थित मिले। वहीं एक शिक्षक तो स्कूल छोड़ अपनी इलेक्ट्रिक दुकान संभालते मिले। वहीं आंगनवाडिय़ों में हैंडवाश यूनिट की कमी दिखी।
एसडीएम घनश्याम धनगर ने बताया कि इस दौरान मौके से अनुपस्थित पाए गए तीन शिक्षकों को निलंबित करने का प्रस्ताव कलेक्टर को भेजा है। प्रभारी कलेक्टर रेखा राठौड़ ने उनको तत्काल निलंबन किया। वहीं स्कूलों व आंगनवाडिय़ों में जल-जीवन मिशन अंतर्गत निर्मित हैंडवाश यूनिट में कमी को तत्काल पूर्ण कराने की चेतावनी पीएचई विभाग के संबंधित अधिकारियों को दी। सुधार नहीं करने पर उनके विरुद्ध कठौर कार्रवाई की जाएगी। निरीक्षण के दौरान मुआसवाड़ा के प्राथमिक व माध्यमिक स्कूल का निरीक्षण करने पर माध्यमिक विद्यालय के शिक्षक मुकेश पाटीदार व उर्वशी सोलंकी और प्राथमिक विद्यालय के शिक्षक नरेंद्र राठौर अनुपस्थित पाए गए। इनको प्रभारी कलेक्टर ने तत्काल निलंबित किया।
अपनी इलेक्ट्रॉनिक दुकान पर मिले शिक्षक
निरीक्षण के दौरान प्राथमिक विद्यालय मुआसवाड़ा के स्कूल में एसडीएम पहुंचे तो पता चला कि यहां के शिक्षक नरेंद्र राठौर लगातार अनुपस्थित रहते हैं। इसका कारण पाटी में अपनी इलेक्ट्रॉनिक दुकान चलाना है। इस पर एसडीएम पाटी मुख्यालय स्थित सागर इलेक्ट्रानिक दुकान पहुंचे तो संबंधित मुवासवाड़ा के शिक्षक नरेंद्र राठौर  वहां दुकान का संचालन करते पाए गए। एसडीएम ने उन्हें चेताया और उनके निलंबन का प्रस्ताव उच्च स्तर पर भेजा।
गुणवत्ताहीन बनाए हैंडवाश यूनिट
जिले में जल जीवन मिशन के तहत स्कूल-आंगनवाडिय़ों में बनाए जा रही हैंडवाश यूनिटों में गुणवत्ता का कोई ध्यान नहीं रखा जा रहा है। शुक्रवार को एसडीएम ने प्राथमिक विद्यालय वलन, माध्यमिक, प्राथमिक विद्यालय मुवासवाडा, आंगनबाड़ी केन्द्र मुवासवाड़ा, आंगनवाड़ी केंद्र वलन पहुंचे तो वहां जल-जीवन मिशन अंतर्गत निर्मित किए जा रही हैंडवाश यूनिट गुणवत्ताविहीन पाई गई। एसडीएम ने पीएचई के अधिकारियों को कड़ी चेतावनी देकर सप्ताह भर में सुधार के निर्देश दिए।
बच्चों की उपस्थिति कम मिली
वहीं निरीक्षण के दौरान स्कूलों और आंगनवाडिय़ों में बच्चों की कम उपस्थिति पाई गई। इस पर एसडीएम ने नाराजगी व्यक्त की और संबंधित अधिकारियों को शत प्रतिशत उपस्थिति दर्ज कराने की चेतावनी दी

Social Media Auto Publish Powered By : XYZScripts.com