Delhi: सीवर शिकायतों के मद्देनज़र जल मंत्री आतिशी ने चंद्रावल गाँव, मॉडल टाउन में किया निरीक्षण

In view of sewer complaints, Water Minister Atishi inspected Chandrawal village, Model Town.

सीवर शिकायतों के मद्देनज़र निरीक्षण की श्रृंखला को जारी रखते हुए जल मंत्री आतिशी ने मॉडल टॉउन विधानसभा क्षेत्र में चंद्रावल गाँव के विभिन्न हिस्सों में जाकर निरीक्षण किया। सीवर की बदहाल हालत देख जलमंत्री ने अधिकारियों को फटकार लगाई और लापरवाही के लिए ज़िम्मेदार अधिकारी को कारण बताओ नोटिस जारी करने के निर्देश दिए। बता दें कि, यहाँ लोगों से लगातार सीवर की शिकायतें मिल रही थी उसके बावजूद अधिकारियों द्वारा उसके समाधान को लेकर कोई कदम नहीं उठाया जा रहा था।
ऐसे में जल मंत्री ने स्वयं ग्राउंड जीरो पर उतरकर समस्या का जायज़ा लिया। निरीक्षण के दौरान लोगों ने जल मंत्री से साझा करते हुए कहा कि सफ़ाई न होने से सीवर ओवरफ़्लो रहता है और उसके कारण गलियों में पानी सीवर का पानी भर जाता है। ऐसे में लोगों की आवाजाही भी मुश्किल हो जाती है। साथ ही लोगों ने बताया कि अपनी समस्या जब वो अधिकारियों को बताते है तो अधिकारी उसे नज़रअंदाज़ करते है। बार बात शिकायतों के बावजूद सीवर समस्या को दूर करने के लिए कोई कदम नहीं उठाया जाता और अधिकारी समस्या सुनने के लिए तैयार नहीं है।
जनता की शिकायतों पर तुरंत संज्ञान लेते हुए जलमंत्री ने अधिकारियों को फटकार लगाई। उन्होंने कहा कि केजरीवाल सरकार ने लापरवाही की कोई जगह नहीं है। अधिकारियों को हमेशा जनता के प्रति जबाबदेह होना चाहिए अगर कोई भी अधिकारी इसमें लापरवाही दिखाते है तो अपने ख़िलाफ़ कड़े एक्शन के लिये तैयार रहे। साथ ही इलाक़े में सीवर की बदहाल स्थिति के लिए ज़िम्मेदारी अधिकारी को कारण बताओ नोटिस जारी करने के निर्देश दिये। उन्होंने अधिकारियों को क्षेत्र में सीवर की सभी समस्याओं को जल्द से जल्द दूर करने के निर्देश दिये।  निरीक्षण के दौरान जल मंत्री ने पाया कि कई गलियों में सीवर का बह रहा है, इससे लोगों को काफ़ी परेशानियों हो रही है और गालियाँ भी क्षतिग्रस्त हो रही है। गली में सीवर के बहते पानी को देखकर जल मंत्री ने अधिकारियों को फटकार लगाते हुए कहा कि केजरीवाल सरकार में ऐसी लापरवाही के लिए कोई जगह नहीं है।
इस बाबत उन्होंने अधिकारियों की कड़े शब्दों में निर्देश देते हुए कहा कि, सप्ताह भर के भीतर इलाक़े की सीवर लाइनों को साफ़ करवाया जाए और इसकी रिपोर्ट उन्हें सौंपी जाए। साथ ही सीवर समस्या के स्थायी समाधान के लिए प्लान तैयार किया जाए और जहां ज़रूरी हो वहाँ सीवर लाइनों को बदला जाए। जल मंत्री ने कहा कि, जल बोर्ड का काम लोगों को साफ़ पानी और बेहतर सीवर व्यवस्था मुहैया करवाना है। और अगर अधिकारी जनता के प्रति अपनी ये ज़िम्मेदारी नहीं निभा पा रहे है तो नौकरी छोड़ दे। केजरीवाल सरकार में जनता के प्रति ये लापरवाही बर्दाश्त नहीं की जाएगी।

Related Articles

Back to top button