Jaipur : दो अलग-अलग कार्रवाई में जिला पुलिस ने तस्करों की करीब 10 करोड़ रुपए कीमत की संपत्ति को लिया कब्जे में

In two separate actions, the district police seized property worth about Rs 10 crore of smugglers

जयपुर/हनुमानगढ़, 29 मई। पुलिस मुख्यालय के निर्देश पर प्रदेश में नशाखोरीएवं  इससे काली कमाई करने वाले तस्करों के विरुद्ध चलाए जा रहे अभियान के अंतर्गत बुधवार को जिले की रावतसर थाना पुलिस एवं संगरिया थाना पुलिस ने स्थानीय प्रशासन के सहयोग से करीब 10 करोड़ रुपए कीमत की संपत्ति को कब्जा मुक्त एवं फ्रीज कराने की कार्रवाई की है। एसपी विकास सांगवान ने बताया कि पुलिस मुख्यालय एवं आईजी रेंज ओमप्रकाश के निर्देश पर अवैध मादक पदार्थो की रोकथाम एवं तस्करी करने वाले व्यक्तियों के विरुद्ध कार्रवाई के लिए चलाए जा रहे अभियान के अंतर्गत बुधवार को थाना रावतसर एवं संगरिया क्षेत्र में कार्रवाई की गई। रावतसर पुलिस-प्रशासन ने 2 करोड़ कीमत की सरकारी भूमि को मुक्त करा कब्जे में लिया एसपी सांगवान ने बताया कि रावतसर निवासी सुरेंद्र झींझा, बेटा सिद्धार्थ, भाई अनिल व अभिमन्यु उर्फ मोनू झींझा पुत्र वीरेंद्र अपराधी घटनाओं में लिप्त है। इनके विरुद्ध विभिन्न थानों पर पूर्व में मादक पदार्थ तस्करी, हत्या का प्रयास, चोरी व हत्या के 19 आपराधिक प्रकरण दर्ज है। अनिल झींझा से पंजाब पुलिस ने बहुचर्चित सिद्धू मूसे वाला हत्याकांड में पूछताछ की थी तथा हत्या के एक मामले में आजीवन कारावास की सजा भी हो रखी है।

निगरानी में सामने आया कि वार्ड नंबर 11 रावतसर स्थित इनके मकान के आगे के हिस्से में इन्होंने अतिक्रमण कर रखा है तथा मकान के सामने रामदेव कॉलोनी की करोड़ों की सरकारी जमीन पर कब्जा कर रखा है। बुधवार को रावतसर थाना पुलिस एवं नगर पालिका की टीम ने सरकारी भूमि पर कब्जे को हटा सरकारी बोर्ड लगाया, वही आरोपी द्वारा मकान के आगे किए गए अतिक्रमण को ध्वस्त किया गया। संगरिया पुलिस ने 7.88 करोड रुपए की संपत्ति की फ्रीज एसपी सांगवान ने बताया कि थाना संगरिया क्षेत्र के हरिपुरा निवासी रामचंद्र उर्फ रामू पुत्र श्योनारायण व उसका भाई सतपाल अवैध मादक पदार्थ तस्करी में लिप्त है। 27 मार्च को थाना पुलिस द्वारा आरोपी रामचंद्र उर्फ रामू के खेत से 30 लाख रुपए कीमत का 630 किलो डोडा पोस्त बरामद किया था। पूर्व में आरोपी तस्कर रामचंद्र के विरुद्ध एनडीपीएस एक्ट के चार प्रकरण दर्ज हुए हैं। पुलिस मुख्यालय एवं आईजी रेंज ओमप्रकाश के निर्देश पर चलाए जा रहे।

अभियान के अंतर्गत आरोपी रामचंद्र उर्फ रामू की संपत्ति की पहचान कर एनडीपीएस एक्ट की धारा 68 एफ के अंतर्गत फ्रीज की गई। ये सम्पत्ति की गई फ्रीज एसपी सांगवान ने बताया कि फ्रीज की गई संपत्ति की कीमत करीब 7.88 करोड रुपए है। पुलिस ने बुधवार को स्थानीय प्रशासन के सहयोग से तस्कर रामचंद्र उर्फ रामू के एक आलीशान दो मंजिला आवासीय मकान जो 5250 वर्ग फीट भूखण्ड में निर्मित है, एक आवासीय मकान जो 3479 वर्ग फीट भूखण्ड में निर्मित है, एक भूखण्ड 7500 वर्ग फीट तथा गांव हरीपुरा रोही, सुरांवाली रोही, भोपालपुरा रोही व खरबारा रोही की कुल करीब 25 हैक्टेयर कृषि भूमि के साथ दो ट्रैक्टर, एक कार व एक मोटरसाईकिल को फ्रीज किया है।

Related Articles

Back to top button