पूर्व सांसद अतीक का मामला : जेल प्रशासन ने नागरिक उड्डयन मंत्रालय को भेजा पत्र

नैनी सेंट्रल जेल में बंद पूर्व सांसद अतीक अहमद को गुजरात की अहमदाबाद सेंट्रल जेल में स्थानांतरित करने की प्रक्रिया पूरी कर ली गई है। उन्हें प्लेन से अहमदाबाद ले जाने की तैयारी है। इसे लेकर जेल प्रशासन ने जेल मैनुअल खंगाला। उसके बाद शासन से अनुमति हासिल कर ली। अब अतीक को अहमदाबाद जेल सोमवार को ले जाया जा सकता है। इसके लिए नैनी जेल प्रशासन ने नागरिक उड्डयन मंत्रालय को पत्र भेजा है।

अहमदाबाद जेल में अतीक के खर्च हो उप्र सरकार उठाएगी 

अतीक को अहमदाबाद जेल में रखे जाने का पूरा खर्च उत्तर प्रदेश सरकार को उठाना पड़ेगा। करीब एक लाख रुपये प्रतिमाह खर्च आएगा। यह रकम नैनी जेल प्रशासन के बजट के मार्फत गुजरात सरकार को दी जाएगी। अतीक को हवाई जहाज से अहमदाबाद ले जाने को लेकर जेल अधिकारियों ने पुलिस अफसरों संग बैठक कर जेल से एयरपोर्ट, प्लेन और गुजरात में सुरक्षा इंतजामों को लेकर मंथन किया।

पूर्व सांसद को प्लेन से ले जाने की अनुमति शासन से मिली है

दरअसल, जेल मैनुअल में इसे लेकर कई पहलू हैं। ऐसे में नैनी जेल प्रशासन ने शासन को पत्र भेज प्लेन से ले जाने की अनुमति मांगी थी। अनुमति मिलने के बाद अब नागरिक उड्डयन मंत्रालय को पत्र भेज व्यवस्था करने को कहा गया है। डीआइजी जेल वीआर वर्मा का कहना है कि कागजी कार्रवाई पूरी कराई जा रही है।

देवरिया जेल की घटना को सुप्रीम कोर्ट ने संज्ञान में लिया है

देवरिया जेल में कारोबारी को अगवा कराके पीटने के मामले में सुप्रीम कोर्ट ने संज्ञान लेते हुए अतीक अहमद को गुजरात के किसी जेल में रखने का आदेश दिया है। जेल में मारपीट की घटना से पर्दा उठने के बाद अतीक अहमद को देवरिया से बरेली जेल भेज दिया गया था। बाद में वहां से नैनी सेंट्रल जेल ले आया गया था।

Social Media Auto Publish Powered By : XYZScripts.com