दाल में छिपकली गिरने से हुई पिता की मौत 3 बच्चे बीमार

बड़वानी। जिले के राजपुर थाना क्षेत्र अंतर्गत ग्राम भागसूर में फूड पॉयजनिंग से एक व्यक्ति की मौत हो गई। जबकि उसके तीन बच्चे की हालत खराब होने पर जिला मुख्यालय के शासकीय अस्पताल में उपचार चल रहा है। यह मामला गुरुवार देर रात का है। मृतक का पीएम करवाकर शव परिजनों को सौंपा और शुक्रवार को क्रियाक्रम भी हो गया। हालांकि उसकी दो बेटियों की हालत अब भी नाजुक बनी हुई हैं, जिन्हें शहर के निजी अस्पताल में भर्ती किया है। जबकि 13 वर्षीय बालक जिला अस्पताल में भर्ती है।

जिला अस्पताल में उपचाररत बालिक सुमित नरगावे ने बताया कि गुरुवार शाम 5 बजे उसकी बड़ी बहन बरफा ने चने की दाल बनाई थी। पिता पन्नालाल नरगावे (13), बड़ी बरफा (16), छोटी बहन वर्षा (14) और उसने भोजन किया। जबकि उसकी माता खेत में मजदूरी करने गई थी। भोजन करने के करीब एक घंटे बाद पिता और बहनों को उल्टी होना शुरु हो गई। थोड़ी देर बाद वो भी उल्टी कर अचेत हो गया। चारों की अधिक स्थिति खराब होने पर परिजन बड़वानी जिला अस्पताल लाए। यहां उपचार के दौरान पिता पन्नालाल की मौत हो गई। जबकि सुमित सहित बरफा को उपचार हेतु जिला अस्पताल में भर्ती किया था। यहां दोनों बहनों की हालत में सुधार नहीं होने पर शुक्रवार शाम बरफा व शनिवार सुबह वर्षा को शहर के निजी अस्पताल में ले जाया गया। जबकि सुमित अब भी जिला अस्पताल में भर्ती है।

कढ़ाई खंगाली को छिपकली की पूंछ दिखी

बालक सुमित ने बताया कि परिवार में छह लोग है। माता-पिता सहित दो बहनें व छोटा भाई 11 साल का है। पिता खेती-बाड़ी करते है। माता खेत में मजदूरी करने जाती है। बरफा कक्षा 10, वर्षा कक्षा 9, सुमित कक्षा 8 व छोटा भाई कक्षा 6 में अध्ययनरत है। गुरुवार शाम पिता सहित दोनों बहने व सुमित ने भोजन किया था। सुमित की बड़ी मम्मी कमलीबाई नरगावे ने बताया कि वे राऊ रहती हैं, घटनाक्रम की खबर पर यहां आई है। बालक सुमित ने बताया कि गुरुवार रात्रि में अचानक चारों की तबियत बिगडऩे लगी। इस दौरान चने की दाल की कढ़ाई खंगालकर देखा तो छिपकली की पूंछ दिखाई मिली। इसके तत्काल बाद चारों को बड़वानी उपचार हेतु लाया गया। बालक सुमित ने बताया कि संभवत: खाना बनाने के दौरान चिपकली कढ़ाई में गिर गई होगी।

Social Media Auto Publish Powered By : XYZScripts.com