प्याज खरीदी : विधानसभा में एक जैसे सवाल पर दो तरह के जवाब

प्याज खरीदी : विधानसभा में एक जैसे सवाल पर दो तरह के जवाब

भोपाल। प्याज खरीदी में अनियमितता से जुडे दो सवाल विधानसभा के शीतकालीन सत्र में एक ही दिन उठे। एक पूर्व मुख्यमंत्री बाबूलाल गौर और दूसरा कांग्रेस विधायक जयवर्द्धन सिंह ने उठाया। गौर के सवाल का तो सरकार ने पूरा जवाब दिया पर सिंह को जवाब दिया कि जानकारी एकत्र की जा रही है।

जब सोशल मीडिया के जरिए इसकी जानकारी लगी तो उन्होंने उचित फोरम पर इस मुद्दे को उठाने की बात कही। वहीं, विधानसभा सचिवालय मामले को दिखवाने की बात कह रहा है।

चार दिसंबर को पूर्व मुख्यमंत्री बाबूलाल गौर और जयवर्द्धन सिंह ने तकरीबन एक जैसे सवाल प्याज खरीदी में अनियमितता को लेकर पूछे थे। सरकार की ओर से गौर को आंकड़ों सहित पूरा जवाब दिया गया।

साथ ही यह भी बताया गया कि कुछ अधिकारियों के खिलाफ निलंबन जैसी कार्रवाई भी की गई है। सिंह ने भी खरीदी की मात्रा, खर्च, बिक्री और अनियमितता के दोषियों पर कार्यवाही का ब्योरा मांगा था, लेकिन इसके जवाब में सिर्फ यह बताया गया कि जानकारी एकत्र की जा रही है।

इसको लेकर सहकारिता विभाग के अधिकारियों का कहना है कि जब प्रश्न चर्चा में लगता है तो संशोधित उत्तर दिया जाता है। प्रश्नों के जवाब काफी पहले चले जाते हैं, इसलिए संभव है कि यह बताया गया हो कि जानकारी एकत्र की जा रही है। विभाग के प्रमुख सचिव केसी गुप्ता का कहना है कि फिर भी हम दिखवा लेते हैं।

उधर, विधानसभा के प्रमुख सचिव अवधेश प्रताप सिंह का कहना है कि आमतौर पर ऐसा नहीं होता कि एक ही दिन में आए सवालों के जवाब अलग-अलग हों। फिर भी यह हो सकता है कि संशोधित जवाब विभाग द्वारा भिजवा दिया हो, इसलिए इसे दिखवाना पड़ेगा। वहीं, जयवर्द्धन सिंह का कहना है कि उचित फोरम पर इस बात को उठाएंगे।

Social Media Auto Publish Powered By : XYZScripts.com