सबसे बड़ी दवाई, हंस लो मेरे भाई, योग गुरु ने पुलिस कर्मियों को करवाया योगाभ्यास

दैनिक हमारा मैट्रो, बड़वानी

किसी भी कार्य को बोझ मानकर करने से मानसिक तनाव बढ़ता है। उक्त विचार जिले के योग गुरु कृष्णकांत सोनी ने पानसेमल थाने पर निशुल्क योग शिविर में पुलिस अधिकारियों एवं कर्मचारियों को योग अभ्यास करवाया। 

योग गुरु ने कहा कि चिंता करने से भूख प्यास कम लगती है,चाहे सैकड़ों पकवान हो, लेकिन कर्तव्य समझकर, हंसकर कार्य करने वाला कठिन कार्य को भी सरल व सफल बना लेता। वह चटनी के साथ आठ‌ मोठी मोटी रोटियां खा सकता है। इसके लिए हासयासन, ब्रम्हचर्य आसन, सूक्ष्म स्थूल व्यायाम करें। इसलिए कहा गया है कि सबसे बड़ी दवाई हंस लो मेरे भाई।

योग गुरु ने आगे बताया कि भोजन के बाये करवट बीस मिनट लेटने से भोजन पाचन सुचारू होता है। ऐसा व्यक्ति स्वस्थ रहता है। योग गुरु ने योग के विभिन्न गुर निशुल्क सिखाये पुलिस अधीक्षक दीपक शुक्ला के निर्देशानुसार। इस अवसर पर थाना प्रभारी लाखनसिंह बघेल, उपनिरीक्षक करतारसिंह सिसोदिया, आरक्षक सुनील पालीवाल आदि उपस्थित थे।।

Social Media Auto Publish Powered By : XYZScripts.com