प्री मानसून के पूर्व हवा-आंधी का कहर, फोटो-वीडियो देंखे

सैकड़ों पेड़ धराशायी, कई विद्युत पोल, डीपी जमी जमींदोज


रेहगून क्षेत्र में मिर्च की नर्सरियों में हुई लाखों रुपए की नुकसानी

दैनिक हमारा मैट्रो, बड़वानी
प्री मानसून के पूर्व शनिवार शाम पांच बजे से शुरु हुई हवा-आंधी से अंचल में नुकसानी हुई है। मुख्य रुप से ग्राम रेहगून, बालकुआ क्षेत्र में हवा-आंधी से सैकड़ों पेड़ धराशायी हो गए। वहीं खेतों में विद्युत ट्रांसफार्मर, विद्युत पोल टूट गए, जमींदोज हो गए। गनीमत रही कि इस दौरान कहीं कोई जनहानि या पशुहानि के समाचार नहीं हैं अन्यस्था बड़ा हादसा हो सकता था। वहीं माचिस की तिली के समान हवा में गिरे विद्युत पोल व ट्रांसफार्मर गिरने पर किसानों ने विद्युत कंपनी के मेंटनेंस कार्य पर सवाल उठाए है।

ग्राम रेहगून के किसान कैलाश राठौर ने बताया कि तेज हवा-आंधी से रेहगून क्षेत्र में मुख्य रुप से मिर्च की नर्सरियों को नुकसान हुआ है। प्रत्येक नर्सरी में औसत दो लाख रुपए की नुकसानी हुई है। 20 से अधिक आम के पेड़ गिर गए। क्षेत्र में 40 से 50 किसानों के खेतों में इस तरह नर्सरी स्थापित है। वहीं ग्राम बालकुआ क्षेत्र में डेढ़ सौ से अधिक पेड़ उखड़ गए। तीन-चार विद्युत ट्रांसफार्मर और 10-12 पोल जमींदोज हो गए। वहीं किसान ओमप्रकाश काग ने विद्युत कंपनी के मेंटनेंस पर सवाल उठाए है। काग ने कहा कि कई दिनों से विद्युत कंपनी चार से छह घंटे तक कटौती कर मेंटनेंस कार्य कर रही है। जबकि मुख्य रुप से ग्रामीण क्षेत्रों व खेतों में विद्युत डीपी व पोल के पास लगे पेड़ों की छंटाई नहीं की गई। इससे पहली हवा-आंधी में ही बड़ी नुकसानी सामने आई है।

शहर में हवाओं ने दी राहत
वहीं दो माह से लगातार भीषण गर्मी झेल रहे शहरवासियों के लिए अब भी प्री मानसून का इंतजार बरकरार है। वैसे जिले के कुछ क्षेत्रों में बारिश की शुरुआत हो चुकी है। शुक्रवार को बादलों की मौजूदगी से खासी उमस-गर्मी से महसूस की गई। हालांकि शाम पांच बजे बाद आसमान में घने बादलों की मौजूदगी में तेज हवा-आंधी चली। हवा-आंधी का सिलसिला देर शाम तक जारी रहा। तेज हवा से अंजड़ रोड पर एक सूखा पेड़ धराशायी हो गया। हालांकि इससे कोई नुकसानी नहीं हुई।

रविवार तक हो सकेगा स्पष्ट आंकलन
मप्र पश्चिम क्षेत्र विद्युत वितरण कंपनी के कार्यपालन यंत्री केएस मालवीय ने बताया कि तेज हवा-आंधी से शहर में कोई नुकसानी नहीं हुई है। ग्रामीण-अंचल में पेड़ों के गिरने से विद्युत पोल, डीपी व लाइन गिरी है। बालकुआ, रेहगून, दवाना, भागसुर, पाटी आदि अंचल के गांवों में ऐसी सूचनाएं मिल रही है। जहां-जहां सूचना मिल रही हैं, सुधार कार्य करवाकर विद्युत प्रदाय सुचारु करवा रहे है। रविवार दोपहर तक पूरी नुकसानी का आंकलन बता सकेेंगे।

Social Media Auto Publish Powered By : XYZScripts.com