49 ने दी थी परीक्षा, सिर्फ पांच हुए पास, 28 एटीकेटी में अटके

🔴 अब रिचेकिंग के नाम पर लग रहे 600 रुपए, एमएससी का परिणाम बिगड़ने पर अभाविप ने की पुनर्निरीक्षण की मांग

✍️ दैनिक हमारा मैट्रो, बड़वानी

शहर स्थित एसबीएन पीजी कॉलेज में इस माह 9 मई को एमएससी वनस्पति शास्त्र विषय का परिणाम आया था। इसमें कुल 49 विद्यार्थी शामिल हुए थे। परिणाम में मात्र पांच विद्यार्थी ही पास हुए और 16 असफल रहे। जबकि 28 विद्यार्थी एटीकेटी में अटक गए। परीक्षा परिणाम बिगड़ने पर अभाविप के नेतृत्व में विद्यार्थियों ने बुधवार दोपहर कॉलेज परिसर में प्रदर्शन किया। प्राचार्य को कुलपति के नाम का ज्ञापन सौंपकर परिणाम के पुनर्निरीक्षण की मांग की।

अभाविप नगर मंत्री रितेश कुमावत ने बताया कि इस वर्ष 8 मार्च को उक्त परीक्षा हुई थी। 9 मई को परिणाम आए हैं। विद्यार्थियों ने अभ्यास में काफी मेहनत की थी, लेकिन परिणाम संतोषप्रद नहीं आए। इससे विद्यार्थियों में रोष हैं। कुछ के अपेक्षा अनुसार अंक कम आए तो किसी के शून्य अंक घोषित किए गए हैं। वहीं लापरवाही ऐसी रही कि कुछ छात्रों को अनुपस्थित बताया गया हैं। ऐसे में विद्यार्थियों में असंतोष की स्थिति बनी हुई है। अब विद्यार्थी रिचेकिंग का फार्म भरेंगे तो उन्हें 600 रुपए तक खर्च आएगा। आज कुलपति के नाम सौंपे ज्ञापन में मांग की गई की छात्रों से बिना कोई शुल्क लिए समस्या का हल किया जाए।

इस दौरान अभाविप कार्यकर्ता अजय पटेल, नगर छात्रा प्रमुख तुलसी सोलंकी, नगर सह मंत्री यश करोले, महाविद्यालय प्रमुख सुमित साठे, महाविद्यालय अध्यक्ष दीपक बामनिया, सह विद्यालय प्रमुख अनुराग राठौर, उपाध्यक्ष देवकीनंदन पवार, सह छात्रा प्रमुख डोली यादव, राजेश्वरी करोले, राजनंदनी करोले आदि कार्यकर्ता उपस्थित थे।

Social Media Auto Publish Powered By : XYZScripts.com