कलेक्ट्रेट में ज्ञापन सौंप फूंका फसल बीमा और ईस्ट वेस्ट कंपनी का पुतला

✍️दैनिक हमारा मैट्रो, बड़वानी

विभिन्न मांंगों को लेकर भारतीय किसान संघ के नेतृत्व में किसानों ने मंगलवार सुबह 11 बजे से तीन घंटे तक कलेक्टोरेट के बाहर धरना-प्रदर्शन किया। इसके बाद कलेक्टोरेट द्वार पर पहुंचकर फसल बीमा, नकली बीज सहित विभिन्न मांगों व शिकायतों के संबंध में अलग-अलग ज्ञापन सौंपा। यहां से बाहर आकर ओलिंपिक सर्कल पर फसल बीमा योजना का पुतला फूंका। वहीं शहर के कोर्ट चौराहा पहुंचकर नकली बीज देने वाले ईस्ट-वेस्ट कंपनी का पुतला फूंक कार्रवाई की मांग की।

ज्ञापन में बताया कि इस्ट वेस्ट कम्पनी भिंडी बीज मार्शल 133 एफ 1 का नकली बीज किसानों को देकर किसानों के साथ छलावा किया है। किसानों ने लाखो रुपए खर्च करने के बावजूद फसल का उत्पादन नहीं मिला। संबंधित कंपनी ने किसानों के साथ बातचीत की और अमानक बीज की बात स्वीकार की, लकिन किसानों को कोई मुआवजा नहीं दिया जा रहा है। किसान संघ ने संबंधित कंपनी से मुआवजा दिलाने और कंपनी पर प्रदेश में प्रतिबंध लगाने की मांग की।

✍️ नुकसानी अनुपात बहुत कम डाली बीमा राशि

किसान संघ जिलाध्यक्ष मंशाराम पंचोले ने बताया कि बीते फ रवरी माह में खरीफ सीजन वर्ष 2020 और रबी सीजन 2020-21 की फसल बीमा दावा राशि का सिंगल क्लिक के माध्यम से प्रदेश के पात्र किसानों के खाते में राशि का अंतरण किया गया था। लेकिन आज दिनांक तक किसानों में उनके पटवारी हल्के में हुए नुकसान के अनुपात में बहुत ही कम राशि बीमा कम्पनी द्वारा डाली गई, तो कही कही तो एक की पटवारी प्रति हेक्टेयर अलग-अलग राशि बीमा कम्पनी द्वारा डाली जा रही है। इससे यह प्रतीत होता है कि बीमा कम्पनी ने फसल बीमा राशि वितरण करने में प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना को प्रचलन मार्गदर्शिका के नियमों को ताक में रखकर अनियमितता की है। आगामी सात दिनों में संबंधित बीमा कंपनी यह शार्ट फाल रिपोर्ट उपलब्ध नहीं कराई जाती है तो किसान संघ जिला स्तर पर कलेक्टोरेट का घेरा डालो डेरा डालो आंदोलन शुरु करेगा।

Social Media Auto Publish Powered By : XYZScripts.com