झुकते विधुत पोल बन सकते है बड़ा खतरा, जाने क्या मामला

शहर के महेंद्र टॉकिज क्षेत्र में सीसी निर्माण के पूर्व नहीं किए विद्युत पोल शिफ्ट

✍️इम्तियाज खान✍️
बड़वानी। वर्षाकाल का दौर थमने के बाद कुछ माह से शहर में विकास कार्यांे में गति आने लगी है। इसके तहत मुख्यमंत्री अधोसंरचना अंतर्गत शहर के महेंद्र टॉकिज से रोटरी स्कूल तक करीब 65 लाख रुपए की लागत से सीसी निर्माण हो रहा हैं। हालांकि सीसी निर्माण से पूर्व मार्ग के विद्युत पोल शिफ्ट नहीं करने से अब रहवासियों के लिए बड़ा खतरा पैदा हो गया है। निर्माण के लिए सड़क खोदाई के बाद कुछ पोल गिरने लगे है। इससे निर्माण कंपनी ने पाइप के टेके लगाए है।
वर्तमान में मौसम बदलाव के साथ तेज हवाएं चलने से कभी भी विद्युत पोल गिरने से बड़ा हादसा हो सकता है। इस ओर नगरीय निकाय के जिम्मेदारों का भी ध्यान नहीं है। गत दिनों मौसम बदलाव और बेमौसम बारिश से उक्त मार्ग निर्माण में नपा काम्प्लेक्स के सामने एक मकान के सामने खोदी सड़क में पानी भर गया था। इस दौरान एक पोल सामने से झुक गया और तार ढिले हो गए। ताबड़तोड़ उसे पाइप का सहारा लगाया गया। हालांकि पाइप लगाने और पोल की नींव कमजोर होने से उक्त स्थान पर निर्माण कार्य में भी बाधा आ रही है। वहीं इसी मार्ग पर टॉकिज के सामने एक पोल झुकने से वहां भी पाइप लगाया गया।
सड़क ऊंची, पोल-तार नीचे होने लगे
जैमन कॉलोनी के पास रोड किनारे विद्युत डिपी को भी सुविधाजनक स्थान पर स्थानांतरित नहीं किया। रहवासियों ने बताया कि सीसी रोड निर्माण के पूर्व मार्ग के सभी विद्युत पोल नए और ऊंचे लगाए जाने थे, लेकिन ऐसा नहीं किया। ऐसे में निर्माण पूर्ण होने पर सड़क ऊंची होने लगी हैं और विद्युत पोल व तार की ऊंचाई कम होने से खतरा बना रहेगा। जबकि इसी तरह अंजड़ रोड पर डिवाईडर निर्माण के दौरान नए खंबे रोड से दूर लगाए जा चुके है।
—————————-
गणतंत्र दिवस के पूर्व भर रहे गड्ढे
कोरोना काल के चलते बीते दो वर्ष से कई स्थानों की सड़कों को पेंचवर्क तक नसीब नहीं हो पाया। ऐसे में कई स्थानों पर बड़े-बड़े गड्ढे दुर्घटनाओं को न्यौता दे रहे है। हालांकि गणतंत्र दिवस के लिए नगर पालिका ने कुछ मार्गांे की सुध ली है। सोमवार को नपा कर्मी उत्कृष्ट स्कूल से मॉडल स्कूल की ओर जाने वाले मार्ग के गड्ढों को मुरम से भरते नजर आए। बता दें कि स्वतंत्रता दिवस पर डीआरपी लाइन मैदान पर कार्यक्रम प्रस्तावित है। ऐसे में इस मार्ग से ही लोगों की सर्वाधिक आवाजाही होना है।

Social Media Auto Publish Powered By : XYZScripts.com