हत्या के बाद 2 दिन तक पति के शव के साथ सोती रही पत्नी

कस्बे के खिजुरीवास टोल प्लाजा के पास एक महिला ने अपने पति की हत्या कर दी। दो दिन तक हत्या के बाद शव को कमरे में छुपाए रखा। बदबू आने पर जला दिया तथा अधजला शव पड़ोस में रहने वाले एक बच्चे की मदद से खेत में फेंक दिया। बच्चे ने शव फेंकने की बात मृतक के माता-पिता को बता दी, जिसके बाद इस राज से पर्दा उठा। पुलिस आरोपित पत्नी को हिरासत में लेकर पूछताछ कर रही है। पुलिस ने बताया कि खिजूरीवास निवासी कुलदीप की निशा से करीब छह वर्ष पूर्व शादी हुई थी तथा दोनों को एक बेटा भी है। 17 सितंबर की रात को अपने कमरे में सोया था। 18 सितंबर को कुलदीप की पत्नी ने निशा ने परिजनों को बताया कि वह रात को ही कहीं चला गया तथा वापस नहीं लौटा। परिजनों ने कुलदीप की तलाश शुरू की तथा सोशल मीडिया पर भी कुलदीप के लापता होने की खबर वायरल हो गई।

पत्नी कमरे में जलाती रही अगरबत्ती

कुलदीप के कमरे से बदबू आने पर परिजनों ने कारण पूछा तो निशा ने बताया कि कोई चूहा मर गया होगा। बदबू दूर करने के लिए कमरे में अगरबत्ती जला कर रखनी शुरू कर दी तथा स्वयं दूसरे कमरे में सोना शुरू कर दिया। 19 सितंबर को अचानक कुलदीप के कमरे में आग लग गई तथा अंदर रखा सारा सामान जल गया। परिजनों ने आग लगने का कारण पूछा तो निशा ने बताया कि उसने बदबू दूर करने के लिए उसने कमरे में अगरबत्ती चला कर रखी थी, उसी से आग लग गई। 19 सितंबर को निशा ने पूरे कमरे की सफाई भी की तथा जले हुए सामान को बाहर फेंक दिया।

बच्चे ने बताया खेत में फेंकी है लाश

निशा ने जला हुआ सामान बाहर फेंकने के लिए पड़ोस में ही रहने वाले तीन बच्चों पंकज, नवनीत व पुनीत से मदद मांगी। सामान की पोटली उठाते समय बच्चों ने उसमें अधजला शव देख लिया तथा निशा को बताया। परंतु निशा ने बच्चे को इस बारे में किसी को कुछ भी न बताने की धमकी देकर चुप कर दिया। इसके बाद पंकज सो नहीं सका तथा उसकी तबीयत भी खराब हो गई। शुक्रवार की रात को बच्चे ने अधजला शव होने तथा उसे खेत में फेंकने की जानकारी अपने परिजनों को दी। राज खुलने के बाद कुलदीप के परिजन रात को बच्चे द्वारा बताए गए खेत में पहुंचे तो वहां पर अधजला शव पड़ा हुआ था। सूचना के बाद भिवाड़ी डीएसपी हरिराम कुमावत व एसएचओ बालाराम मौके पर पहुंचे। पुलिस ने मौके पर एफएसएल टीम को बुलाया गया तथा शव व घटनास्थल का निरीक्षण कराया। अधजले शव की शिनाख्त कुलदीप के रूप में हुई है। पुलिस ने शमशेर यादव की शिकायत पर निशा के खिलाफ हत्या का मामला दर्ज कर गिरफ्तार कर लिया।

दो दिन बेड में छुपा कर रखा शव

पुलिस अधीक्षक अमनदीप कपूर ने बताया कि 17 सितंबर की रात को कुलदीप शराब पीकर आया था तथा निशा के साथ झगड़ा कर रहा था। रात को झगड़ा बढ़ने पर निशा ने कुलदीप का सिर पकड़ कर बेड पर मार दिया था। खून ज्यादा बहने के कारण कुलदीप की मौत हो गई तथा निशा ने शव को गद्दे में लपेट कर बेड में रख दिया तथा 19 सितंबर को आग लगा दी थी। आरोपित पत्नी को गिरफ्तार कर लिया गया है।

Posted by:- Vikash kaushik

Social Media Auto Publish Powered By : XYZScripts.com