बेटे को नहीं मिली जैगुआर तो नहर में गिरा दी BMW

यमुनानगर में एक कार नहर में गिर गई। कार को बहता देख एक युवक नहर में कूद पड़ा। अन्‍य लोग भी हादसा समझकर बचाव के लिए भागे तो चौकाने वाला मामला सामने आया। नहर किनारे खड़े युवक ने उन्हें शोर मचाने से रोक दिया। उसने बताया कि गाड़ी में कोई नहीं है। पिता ने जगुआर कार देने से मना किया तो बीएमडब्ल्यू कार को नहर में बहा दिया। उसने वीडियो भी बनाई। यह वीडियो पिता को भेजकर कहा कि यदि जगुआर नहीं, तो बीएमडब्ल्यू भी नहीं।

मुकारोपुर निवासी संजीव का 21 वर्षीय आकाश एकलौता बेटा है। अपनी बीएमडब्ल्यू कार से सुबह करीब साढ़े नौ बजे दादूपुर हैड नहर पर पहुंचा। कार रिमोट सिस्टम से भी चलती थी। बाहर निकलकर कार को उसने नहर में गिरा दिया। कार गिरने से हड़कंप मच गया। पिता ने बीएमडब्ल्यू भी कुछ माह पहले ही खरीद कर दी थी। डीएसपी देशराज ने बताया कि मुकारमपुर के आकाश ने जानबूझकर कार नहर में गिराई है। जबकि आकाश के पिता संजीव कुमार का कहना है कि नीलगाय को बचाने के चक्कर में कार नहर में गिरी। आकाश कूदकर बाहर आ गया। न तो उसने हमारे पास कोई वीडियो क्लिप भेजी और न ही वह जगुआर मांग रहा था।

छछरौली पुलिस का कहना है कि संजीव कुमार वीडियो क्लिप देखने के बाद ही घटना स्थल पर पहुंचे थे। यहां पहुंचने के बाद उन्होंने पुलिस और मौजूद लोगों को वीडियो क्लिप भी दिखाई थी। पुलिस ने वह संदेश भी देखा था, जिसमें लिखा था यदि जगुआर नहीं तो बीएमडब्ल्यू भी नहीं। एक प्रत्यक्षदर्शी रमेश कुमार ने बताया कि मालिक ने ही कार को नहर में गिराया था।
प्रत्‍यक्षदर्शियों ने बताया कि कार को बहता देखा तो समझा कि दुर्घटना हो गई है और कार सहित व्यक्ति गिर गया है। लोगों ने बचाव के लिए शोर मचाना शुरू कर दिया। इसी बीच घटनास्थल पर खड़े आकाश ने उन्हें शोर न मचाने की सलाह दी। उसने बताया कि कार उसकी थी। उसमें कोई नहीं बैठा था। इसके बाद लोगों ने इसकी सूचना पुलिस को दे दी।
कार के नहर में गिरते ही मौके पर मौजूद लोगों में हड़कंप मच गया। उन्हें लगा कि कार में लोग सवार थे। हेड पर मौजूद ऋषिपाल रस्सी लेकर तुरंत नहर में कूद गया। अंदर जाकर देखा कार में कोई नहीं था। इतने में पुलिस भी गोताखोरों की टीम और दो मोटर बोट लेकर पहुंची। नहर में पानी अधिक होने की वजह से कार निकालने में परेशानी आ रही थी। शाम करीब साढ़े सात बजे कार को निकाला जा सका।

Social Media Auto Publish Powered By : XYZScripts.com