Lucknow: लखनऊ के पास आगरा एक्सप्रेस वे पर भीषण सड़क हादसा 18 की मौत, 20 घायल

Horrific road accident on Agra Expressway near Lucknow, 18 killed, 20 injured

लखनऊ। उत्तर प्रदेश के जिला उन्नाव के पास आगरा एक्सपे्रस वे पर एक भीषण सड़क हादसे में डेढ़ दर्जन लोगों की मौत हो गई और करीब 20 लोगों के घायल होने की खबर है।आज बुधवार सुबह लखनऊ-आगरा एक्सप्रेस-वे पर यह भीषण सड़क हादसा हुआ। डबल डेकर बस एक टैंकर से टकरा गई। टकराने के बाद हाईवे पर बस कई बार पलटी।घायलों को अस्पताल में भर्ती कराया गया है। पुलिस ने शवों को कब्जे में लेकर जांच शुरू कर दी है।


जानकारी के अनुसार, डबल डेकर बस यूपी-95 टी 4720 बिहार के शिवगढ़ से राजधानी दिल्ली जा रही थी। जैसे ही स्लीपर बस लखनऊ-आगरा एक्सप्रेसवे पर बेहटा मुजावर थाना इलाके में हवाई पट्टी पर पहुंची तो दूध से भरे टैंकर में भिड़ गई। टक्कर इतनी जोरदार थी कि बस के परखच्चे उड़ गए। जिस जगह पर हादसा हुआ, वहां लाशों का अंबार लग गया। सड़क पर लाश ही लाश दिखाई दे रहीं थीं। मौके पर चीख-पुकार मच गई। हादसे में एक बच्चे और महिलाओं समेत 18 यात्रियों की मौत हो गई। जबकि 20 यात्री गंभीर रूप से जख्मी हैं। सूचना पर पहुंची पुलिस ने घायलों को अस्पताल पहुंचाया। शुरुआती जांच में पता चला है कि बस की स्पीड अधिक थी। प्रत्यक्षदर्शियों ने बताया स्लीपर बस अनियंत्रित होकर टैंकर से टकराई थी, जिससे यह दर्दनाक हादसा हुआ है। हादसा इतना भीषण था कि इसे देखकर घटनास्थल पर मौजूद लोग सहम गए। लखनऊ-आगरा एक्सप्रेसवे पर बेहटा मुजावर थाना क्षेत्र के गढ़ा गांव के सामने हुए सड़क हादसा के बाद घायलों को अस्पताल में भर्ती करा दिया गया है, जहां उनका इलाज जारी है। वहीं, पुलिस ने कुछ मृतकों की शिनाख्त कर ली है। उन्नाव के जिला अधिकारी गौरांग राठी ने कहा कि दिल्ली जा रही एक निजी बस में करीब 57 यात्री सवार थे। सुबह 5रू15 बजे बस की दूध के कंटेनर से टक्कर होने से 18 लोगों की मौत हो गई और 19 अन्य घायल हो गए। करीब 20 लोग सुरक्षित हैं, जिन्हें दिल्ली भेजा जा रहा है। छह लोगों को ट्रॉमा सेंटर रेफर किया गया है, बाकी का इलाज जिला अस्पताल में हो रहा है। हमारे पास इलाज के लिए पर्याप्त व्यवस्था है और हम जल्द से जल्द सभी आवश्यक कार्रवाई करेंगे। उन्नाव एसपी सिद्धार्थ शंकर मीणा ने बताया कि ष्लखनऊ-आगरा एक्सप्रेसवे पर एक बस एक दूध के कंटेनर से टकरा गई, जिसमें 18 लोगों की मौत हो गई और 19 लोग घायल हो गए। घायलों का इलाज जिला अस्पताल में चल रहा है। 5 घायलों को बेहतर उपचार के लिए लखनऊ रेफर किया गया है। मृतक और घायलों की पहचान की जा रही है, हेल्पलाइन नंबर भी जारी कर दिए गए हैं।


मृतकों का विवरण
1. दिलशाद पुत्र अशफाक निवासी थाना मोदीपुरम जनपद मेरठ उम्र करीब 22 वर्ष
2. बीटू पुत्र राजेन्द्र निवासी थाना भादूर जनपद शिवहर, बिहार उम्र करीब 9 वर्ष
3. रजनीश पुत्र रामविलास निवासी जनपद सीवान, बिहार
4. लालबाबू दास पुत्र रामसूरज दास निवासी थाना हिरागा जनपद शिवहर, बिहार
5. रामप्रवेश कुमार निवासी उपरोक्त
6. भरत भूषण कुमार पुत्र लाल बहादुर दास निवासी उपरोक्त
7. बाबू दास पुत्र रामसूरज दास निवासी उपरोक्त
8. मो0 सद्दाम पुत्र पुत्र मो0 बशीर निवासी गमरोली थाना शिवहर, बिहार
9. नगमा पुत्री मो0 शहजाद निवासी भजनपुरा, दिल्ली
10. शबाना पत्नी मो0 शहजाद निवासी उपरोक्त
11. चांदनी पत्नी मो0 शमशाद निवासी शिवोली, मुलहारी
12. मो0 शफीक पुत्र अब्दुल बसीर निवासी उपरोक्त
13. मुन्नी खातून पत्नी अब्दुल बसीक निवासी उपरोक्त
14. तौफीक आलम पुत्र अब्दुल बसीर निवासी उपरोक्त


पीएमओ ने सोशल मीडिया पर पोस्ट कर बताया कि प्रधानमंत्री ने उन्नाव में हुए हादसे में मारे गए प्रत्येक व्यक्ति के परिजनों को प्रधानमंत्री राष्ट्रीय राहत कोष से 2 लाख रुपये की अनुग्रह राशि देने की घोषणा की है। घायलों को 50,000 रुपये दिए जाएंगे। राष्ट्रपति द्रौपदी मुर्मू ने उत्तर प्रदेश के उन्नाव में लखनऊ-आगरा एक्सप्रेसवे पर हुई सड़क दुर्घटना पर दुख जताया। उन्होंने लिखा कि हादसे में अनेक लोगों की मृत्यु का समाचार अत्यंत दुखदाई है। ऐसी आकस्मिक मृत्यु का शिकार हुए लोगों के परिवार के सदस्यों के प्रति मैं गहन शोक संवेदनाएं व्यक्त करती हूं तथा घायल हुए लोगों के शीघ्र स्वस्थ होने की कामना करती हूं।उत्तर प्रदेश के सीएम योगी आदित्यनाथ ने उन्नाव जिले में हुई सड़क दुर्घटना का संज्ञान लिया और मृतकों के शोक संतप्त परिजनों के प्रति संवेदना व्यक्त की। मुख्यमंत्री ने अधिकारियों को तत्काल मौके पर पहुंचकर राहत कार्य तेजी से करने के निर्देश दिए। उत्तर प्रदेश के उपमुख्यमंत्री ब्रजेश पाठक ने कहा, ष्आगरा लखनऊ एक्सप्रेसवे पर भीषण सड़क दुर्घटना हुई है, 18 लोगों के हताहत और 19 लोगों के घायल होने की खबर है। घायलों को उच्च स्तरीय अस्पतालों में ले जाया जा रहा है, उन्नाव, कानपुर के सभी अस्पतालों को अलर्ट पर रखा गया है।

Related Articles

Back to top button