स्वास्थ्य के लिए वरदान हैं ये 3 योगासन

योगासन शरीर को स्वस्थ रखने के सशक्त माध्यम हैं। वैसे तो आसनों की फेहरिस्त लंबी है, लेकिन कुछ सहज चुनिंदा

Read more

अब होगा आपका मुफ्त इलाज, राइट टू हेल्थ लागू करने वाला छत्तीसगढ़ देश में पहला राज्य

छत्तीसगढ़ राइट टू हेल्थ लागू करने वाला पहला राज्य बनेगा रजिस्ट्रेशन नंबर के साथ मरीज को मिलेगी बुकलेट, सारी जानकारी

Read more

गर्मियों के दिनों में पाचन तंत्र से जुड़ी समस्या के चलते व्यक्ति का पेट खराब के कुछ टिप्स

गर्मियों के दिनों में अक्सर देखा गया है कि व्यक्ति अपने खानपान की गलत आदतों की वजह से पेट से

Read more

भारत की आधी आबादी SILENT KILLER की जकड़ में

साइलेंट किलर ने भारत की लगभग ५०% आबादी को अपनी जकड़ में ले लिया हैं। अब डायबिटीज़ को साइलेंट किलर

Read more

अलसी के बीज से मोटापा के लिए नया मूलमंत्र

वजन कम करने की इच्छा रखने वाले लोग काफी मात्रा में अलसी के बीजों का सेवन करते हैं। इसे खाने

Read more

सावधान! पिज्जा-बर्गर मां बनने की खुशी न छीन लें

सावधान! पिज्जा-बर्गर मां बनने की खुशी न छीन लें फास्ट फूड की शौकीन महिलाएं जरा गौर फरमाएं। पिज्जा-बर्गर का अत्यधिक

Read more

कॉस्मेटिक सर्जरी सुपरस्टार श्रीदेवी की मौत का एकमात्र कारण नहीं : डॉ मोनिका कपूर

कॉस्मेटिक सर्जरी सुपरस्टार श्रीदेवी की मौत का एकमात्र कारण नहीं : डॉ मोनिका कपूर ह्रदय के दौरे के कारण मेगास्टार श्रीदेवी की असामयिक मृत्यु ने सभी को सदमे में ले लिया है। 54 वर्षीय अभिनेत्री, जो 80 के दशक में सिनेमा पर राज कर रहीथी, एक पारिवारिक शादी का हिस्सा बनने के लिए दुबई गए थे। अप्रत्याशित मौत के बारे में व्यापक अटकलें हैं, कई विशेषज्ञों और डॉक्टरों ने उन कईकॉस्मेटिक सर्जरी का आरोप लगाया है जो उन्होंने अपने कार्यकाल के दौरान करवायी थी। उनकी कॉस्मेटिक सर्जरी और टॉक्सिस दोसेस को श्रीदेवी के ह्रदय दौरे का मुख्य कारण माना जा रहा है पर इस बारे में डॉ मोनिका कपूर का मानना कुछ और है।डॉ. मोनिका जो खुद कॉस्मेटिक सर्जन है उनका कहना है, “कॉस्मेटिक सर्जरी किसी के आकस्मिक निधन का इकलौता कारण नहीं हो सकता। हम इसके लिएचिकित्सा प्रक्रियाओं को दोषी नहीं ठहरा सकते हैं परन्तु कॉस्मेटिक सर्जरी करवाने के पीछे की वजह जैसे निरंतर मानसिक और सामाजिक तनाव, अथवा उनकेसर्वश्रेष्ठ देखने की एक हद को दोषी ठहराया जा सकता है। “ आगे बताते हुए, उन्होंने कहा, “यदि कॉस्मेटिक सर्जरी ऐसी मौत के लिए जिम्मेदार होती, तो यह अतीत में बहुत समय पहले हो सकता था। श्रीदेवी इस तरह केसर्जरी अपने जीवन के पहले भी करवा चुकी थीं”। माइकल जैक्सन के उदाहरण का हवाला देते हुए, मोनिका ने समझाया, “एम.जे. जैसे प्रमुख व्यक्तियों ने विभिन्न कॉस्मेटिक प्रक्रियाओं और सर्जरी करवाई, लेकिन दुनिया में कहीं शल्य चिकित्सा समितियों / चिकित्सा समितियों ने इन सर्जरीओं को अचानक मौत का कारण नहीं बताया।” डॉ. मोनिका अन्य सर्जरी के बारे में भी बताते है जो हानिकारक नहीं हैं। उनका कहना है  “लोगों को कभी-कभी ट्यूमर हटाने या संपूर्ण इलाज के लिए कई सर्जरीकी आवश्यकता होती है, लेकिन यह उनको नहीं मारता है। खुद की तस्वीर को सामाज में सही दिखने के लिए लगातार सामाजिक और मानसिक तनाव इससर्जरी के पीछे मुख्य कारण है, इसलिए मेरा मानना है कि सर्जरी करवाने के पीछे कारण समाज या पारिवारिक दबाव, दर्जा और प्रोफ़ाइल बनाए रखना होता है।यही दबाव हमारे सबसे प्रतिष्ठित सितारों के दुखद निधन का उनका कारण बन जाते है।

Read more

आँखों की देख भाल में न करें लापरवाही : डा. अंजली नागर

आँखों की देख भाल में न करें लापरवाही : डा. अंजली नागर नीरज पाण्डेय पूर्वी दिल्ली। आज जहां अधिकतर लोग

Read more

भारतीय इंडस्ट्री में टेक्नोलॉजी और तकनीक की क्या प्रगति हुई है?

भारतीय इंडस्ट्री में टेक्नोलॉजी और तकनीक की क्या प्रगति हुई है? डॉ मोनिका कपूर ने इस प्रश्न का उत्तर दिया:   कॉस्मेटिक सर्जरी और प्रक्रियाओं में ज़बरदस्त उन्नति हुई है। आज बहुत सारी रोबोटिक सर्जरी हो रही हैं जिनमें चूकने कीसम्भावना बहुत ही काम है। मिनिमल सर्जरी होती हैं जिनमें मिनिमल या बहुत कम दाग रह जाते हैं। लिप-फिलर्सजैसीसर्जरी के बिना ही इतनी प्रक्रियाएँ हैं जिनसे कॉस्मेटिक तरीके से त्रुटि का सुधार किया जा सकता है। लेज़र टेक्नोलॉजी में अभी इतनी प्रगति हुई हैं कि आप लेज़र रिसर्फेसिंग ऑफ़ फेस से लेकर स्कार रिमूवल तक सब कुछकरवा सकते हैं। कॉस्मेटिक क्षेत्र की सबसे नई टेक्नोलॉजी है प्लाज़्मा मेडिसिन जो भारत में पहली बार मैंने शुरू की। बॉडी कॉन्टूरिंग औरफेशियल सर्जिकल और नॉन-सर्जिकल प्रक्रियाओं का इतना विकास हुआ है कि आप चौकोन जॉ-लाइन से लेकरओवल जॉ-लाइन और उससे भी कई ज़्यादा पा सकते हैं। आजकल रोबोटिक हेयर ट्रांसप्लांट सर्जरी भी होती है जिससे हेयर ट्रांसप्लांटेशन बहुत तरक्की कर चुका है। अब अगर आपचाहें तो अपने बालों को सबसे कुदरती तरीके से बढ़ा सकते हैं। मुझे विश्वास हैं कि कॉस्मेटिक प्रक्रियाओं मेंइतनी बढ़ौती हुई हैंकि दुनिया भर के लोग जैसे यु. एस. ऐ., यु. के, और यु. ऐ. इ. के लोग यह कराने के लिए भारत आना पसंद कर रहे हैं।

Read more