समाज की सत्ता संरचना की घुसपैठ बनी हुई है और लाभ व पितृसत्ता के लिए  स्त्रियों को वस्तु बना दिया 

समाज की सत्ता संरचना की घुसपैठ बनी हुई है और लाभ व पितृसत्ता के लिए  स्त्रियों को वस्तु बना दिया

Read more
Social Media Auto Publish Powered By : XYZScripts.com