दिल्ली-NCR में बदला मौसम का मिजाज, नूंह में धूल भरी आंधी

करीब सप्ताह भर की भीषण गर्मी के बाद अब दिल्लीवासी गर्मी से थोड़ी राहत महसूस कर रहे हैं। पूर्व दिशा से आने वाली हवा और उच्च हिमालयी क्षेत्रों में पश्चिमी विक्षोभ की सक्रियता से गर्मी की चुभन पर ब्रेक लगा है। कुछ दिनों तक ऐसी स्थिति के बने रहने के आसार हैं। इसी कड़ी में बुधवार शाम को दिल्ली-एनसीआर के मौसम का मिजाज अचानक बदल गया। आसमान में बादल छाए और हरियाणा के नूंह में धूल भरी आंधी चली, जिससे यहां पर लोगों को गर्मी से राहत मिली है।

भारतीय मौसम विभाग (Indian Meteorological Department) का अनुमान है कि अगले तीन दिनों तक बीच-बीच में हल्के बादलों की आवाजाही होती रहेगी। इस बीच तेज हवा, आंधी और हल्की बूंदाबांदी के भी एक-दो दौर आ सकते हैं। लिहाजा, गर्मी से राहत रहेगी। हालांकि, आठ जून के बाद एक बार फिर तापमान में तेजी से इजाफा होने की संभावना है।

इससे पहले मंगलवार को भी दिल्ली के ज्यादातर हिस्सों में सुबह से ही आंशिक बादल छाए रहे। हालांकि धूप भी सुबह ही खिल गई थी, लेकिन दिन भर बादलों और सूरज के बीच आंखमिचौली चलती रही। मंगलवार को अधिकतम तापमान 41.5 डिग्री सेल्सियस रिकार्ड किया गया जो कि सामान्य से एक डिग्री ज्यादा है। न्यूनतम तापमान 28.7 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया। यह भी सामान्य से एक डिग्री ज्यादा है। नमी का स्तर 37 से 60 फीसद तक बना रहा।

प्रदूषण में सुधार

वहीं, दिल्ली की हवा में धूल की मात्र कम होने से हवा अपेक्षाकृत साफ-सुथरी हो गई है। केंद्रीय प्रदूषण नियंत्रण बोर्ड द्वारा जारी एयर बुलेटिन के मुताबिक मंगलवार को दिल्ली का एयर इंडेक्स 169 दर्ज किया गया। इस स्तर की हवा को मध्यम श्रेणी में रखा जाता है।

गर्मी के कारण समर कैंप को बंद करने के निर्देश

दिल्ली सरकार के शिक्षा निदेशालय ने राजधानी में पड़ रही भीषण गर्मी के कारण सरकारी स्कूलों में आयोजित हो रहे समर कैंप व योगा कोचिंग कैंप को बंद करने के निर्देश दिए हैं। इन स्कूलों में छठी से नौंवी कक्षा के परिणामों को आयोजित किया जा रहा था, लेकिन जिस तरह से दिल्ली में गर्मी ने अपने तेवर दिखाने शुरू कर दिए हैं। उसे देखते हुए सरकार ने यह कदम उठाया है।