फैनी तूफान – ओडिशा सरकार को 9 हजार करोड़ रु. का नुकसान

  • ओडिशा सरकार की ओर से जारी आंकड़ों के मुताबिक- फैनी से राज्य में 64 लोगों की मौत हुई
  • तूफान से 6643 करोड़ रु. की सार्वजनिक संपत्ति तबाह, राहत-बचाव कार्यों में 2700 करोड़ रु. खर्च हुए

भुवनेश्वर. ओडिशा में पिछले महीने आए 20 साल के सबसे ताकतवर तूफान फैनी ने राज्य में भारी तबाही मचाई है। ओडिशा सरकार के विशेष राहत आयुक्त के मुताबिक, तूफान से 1.6 करोड़ लोग प्रभावित हुए और करीब 5.5 लाख घर पूर्ण या आंशिक रूप से तबाह हुए। अलग-अलग विभागों की जांच में सामने आया है कि राज्य को इससे 9336 करोड़ रुपए का नुकसान हुआ। इस सिलसिले में ओडिशा सरकार ने क्षतिपूर्ति के लिए नेशनल डिजास्टर रिस्पॉन्स फंड (एनडीआरएफ) से 5227 करोड़ रु. की मदद मांगी है।

बताया गया है कि तूफान के चलते करीब 6643 करोड़ रुपए की सार्वजनिक संपत्तियां तबाह हुईं। इसके अलावा प्रभावित लोगों के राहत और बचाव कार्य में 2692 करोेड़ की लागत आई। राज्य सरकार अब तक आपदा प्रबंधन के लिए जिलों और विभागों को 1357 करोड़ दे चुकी है।

तूफान से 1.88 लाख हेक्टेयर खेती का इलाका प्रभावित
ओडिशा के 20,367 गांवों में हुए सर्वे में सामने आया कि तूफान की चपेट में आकर 64 लोगों की मौत हो गई, वहीं 12 लोग बुरी तरह घायल हुए। इसके अलावा करीब 1.88 लाख हेक्टेयर का खेती का इलाका बुरी तरह प्रभावित हुआ है। 2650 बड़े जानवर, 3632 छोटे जानवर और 53 लाख से ज्यादा पक्षी भी तूफान के बाद से लापता हैं।

12 लाख लोगों को बचाया गया
20 साल पहले यानी 1999 में इसी तरह का सुपरसाइक्लोन ओडिशा से टकराया था। तब करीब 10 हजार लोग इस आपदा का शिकार बने थे। इस बार क्षति इसलिए कम हुई, क्योंकि राज्य और केंद्र सरकार को काफी पहले तूफान की जानकारी मिल चुकी थी। किसी भी अप्रिय स्थिति से निपटने की पूरी तैयारी युद्धस्तर पर की गई थी। इस बार 12 लाख लोगों को बचाया गया। 26 लाख लोगों को मैसेज कर तमाम जानकारियां दी गईं। इसके अलावा 43 हजार कर्मचारियों और वॉलंटियर्स को हालात से निपटने के लिए तैनात किया गया था।

HAMARA METRO

Social Media Auto Publish Powered By : XYZScripts.com