50 सालों में मामा के इस गांव में नहीं पैदा हुआ बच्चा

50 सालों में मामा के इस गांव में नहीं पैदा हुआ बच्चा

राजेंद्र  सिंह  जादौन

देश के बीचो बिच बसा मध्य प्रदेश और मध्य प्रदेश की राजधानी से १५० किमी दूर राजगढ़ जिला और इस जिले में है  एक ऐसा गांव जहां पिछले 50 सालों से एक भी बच्चे का जन्म नहीं हुआ है। चोकने वाली बात  यह है कि यह सब यहां पर सिर्फ एक अंधविश्वास के चलते हो रहा है। यह चैंकाने वाला मामला जिले के सांका जागीर गांव का जहां ग्रामीण किसी भी बच्चे का जन्म गांव की सीमा में नहीं होने देते।

उनका मानना है कि यदि बच्चा गांव की सीमा के अंदर जन्म लेगा तो उसकी जान चली जाएगी या फिर वह दिव्यांग हो जाएगा। इसके लिए ग्रामीणों ने गांव की सीमा के बाहर एक कमरा भी बनवाया हुआ है। उनके मुताबिक जब किसी महिला को प्रसव पीड़ा होती है तो उसे इस कमरे में ले जाया जाता है। जहां दाई बच्चे का जन्म करवाती है। जच्चा-बच्चा के स्वस्थ होने की खबर मिलने पर उन्हें कुछ घंटों बाद वापस गांव की सीमा में लाया जाता है।

ग्रामीणों का मानना है की ये व्यवस्था बरसो से चली आरही है और हम भी इस व्यवस्था को बुजुर्गों का फरमान मानते है । ग्रामीणों की  मानें तो किसी जमाने में गांव में श्याम जी का मंदिर था। उसकी पवित्रता बनाए रखने के लिए गांव के बुजुर्गों ने यह निर्णय लिया था कि गर्भवती की डिलीवरी बाहर ही करवाई जाए। गांव के वृद्धजनों की मानें तो पिछले 50 सालों से उन्होंने यहां किसी भी बच्चे का जन्म होते नहीं देखा है। और ये परम्परा इसी तरह फल फुल रही है .. और प्रदेश व केंद्र सरकार जच्चा बच्चा पर लाखो रूपये पानी की तरह लुटा रही है ..ऐसे में ये गाव सरकार को मुह चिढ़ा रहा है .

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *