बेल्‍लारी जाने की अनुमति वाली जनार्दन रेड्डी की याचिका पर सुनवाई

7 जून को पूर्व कर्नाटक मंत्री जीजे रेड्डी की याचिका पर सुनवाई की जाएगी। याचिका में उन्‍होंने बेल्‍लारी जाने की अनुमति मांगी है। बता दें कि बेल्‍लारी में उनके ससुर गंभीर रूप से बीमार हैं। इससे पहले भी पिछले साल भाई के पक्ष में चुनाव प्रचार के लिए बेल्‍लारी जाने की उनकी याचिका को कोर्ट में खारिज कर दिया गया था।

रेड्डी बंधुओं पर खनन के गंभीर आरोप हैं और जनार्दन रेड्डी जेल भी काट चुके हैं। अभी भी उनके खिलाफ कई मामले हैं और उन्हें बेल्लारी जिला जाने की इजाजत नहीं है। जनार्दन व उनके बहनोई बीवी श्रीनिवास रेड्डी को सीबीआइ ने अवैध खनन के आरोप में पांच मई 2011 को गिरफ्तार किया था।

इनपर आरोप है कि उन्होंने खनन के लिए की गई निशानदेही का उल्लंघन करके बेल्लारी संरक्षित वन क्षेत्र में खनन किया। यह इलाका कर्नाटक व आंध्रप्रदेश के अनंतपुर जिले में स्थित है। तीन साल जेल में रहने के बाद दोनों को 2015 में जमानत पर रिहा किया गया, लेकिन इस शर्त के साथ कि वो अपने गृह क्षेत्र बेल्लारी नहीं जाएंगे। इसके अतिरिक्त आंध्रप्रदेश के अनंतपुर व काडपा जिले में भी उनके प्रवेश पर रोक लगाई गई थी।