5 गोली लगी, फिर भी पुलिस थाने पहुंचा कांग्रेस नेता का बेटा

पंजाब के डेरा बस्सी इलाके में कांग्रेस नेता के बेटे पर सरेआम जानलेवा हमले की घटना को अंजाम दिया गया. इस हमले में कांग्रसे नेता के पुत्र लखविंदर उर्फ लक्की पर हमलावरों ने कई गोलियां चलाईं. जिसमें से पांच गोलियां सीधे लक्की को जाकर लगी. बावजूद इसके वो खुद ही गाड़ी लेकर पहले पुलिस चौकी गए और वहां से खुद ही अस्पताल पहुंचे.

हमले की यह वारदात डेरा बस्सी के खेड़ी गुज्जरां रोड की है. कांग्रेस नेता रोशनी देवी ब्लॉक समिति की सदस्य हैं. उनका 28 वर्षीय बेटा है, जिसका नाम लखविंदर उर्फ लक्की है. मंगलवार की रात लक्की अपनी स्विफ्ट कार से कहीं जा रहा था. उसके साथ उसका दोस्त बिट्टू भी था. जैसे वो दोनों माहिवाला चौक के पास पहुंचे तो बिट्टू ने पेशाब के बहाने लक्की को गाड़ी रोकने के लिए कहा.

तभी वहां 2 मोटरसाइकिलों पर सवार 4 युवक जा पहुंचे और ड्राइवर सीट की तरफ से जाकर फायरिंग शुरू कर दी. इस हमले में लक्की को निशाना बनाकर 6 फायर किए गए, जिनमें से एक गोली उसके दाएं कंधे, एक दाईं कोहनी, एक छाती में दाईं तरफ और दो गोलियां उसके पेट में लगी.

हमले के बाद आरोपी वहां से फरार हो गए. लक्की मदद के लिए बिट्टू को बुलाता रहा लेकिन वो भी वहां से भाग निकला. 4 गोली लगने के बावजूद लक्की कार लेकर खुद डेरा बस्सी पुलिस स्टेशन पहुंचा. जहां एसआई नरिंदर सिंह और हवलदार पाल महिंदर ने उसकी शिकायत दर्ज नहीं की. यहां तक पुलिसवालों ने उसे अस्पताल भी नहीं पहुंचाया.

इसके बाद भी लक्की ने हिम्मत नहीं हारी वो खुद गाड़ी स्टार्ट कर जीएमसी हॉस्पिटल जा पहुंचा और घटना के बारे में परिवार को लोगों समेत गांव वालों को सूचना दी. इस जानलेवा हमले के कुछ देर बाद ही दो आरोपियों ने एक वीडियो जारी कर लक्की पर हमले की जिम्मेदारी ले ली.

पुलिस ने इस संबंध में बिट्टू, संजू, गीतू, मनीष उर्फ बिट्टू, और रणजीत मिंटा के खिलाफ आईपीसी धारा 307, 506, 148 और 149 के साथ-साथ आर्म्स एक्ट की धारा 25,27,54 और 59 के तहत केस दर्ज किया है. लापरवाही दिखाने वाले पुलिसकर्मियों पर भी गाज गिर सकती है.

HAMARA METRO

Social Media Auto Publish Powered By : XYZScripts.com