यूपी के इस शहर में दफ्तरों में कार्यरत युवतियों से छेड़छाड़ पड़ेगी भारी, जल्द लॉन्च हो रहा APP

 दिल्ली-एनसीआर समेत देश के तमाम शहरों में कार्यस्थलों/संस्थानों में महिलाओं के साथ आपत्तिजनक व्यवहार की शिकायतें लगातार आ रही हैं। महिलाओं के साथ छेड़छाड़ ऐसा अपराध है जिसे प्रमाणित करना बेहद मुश्किल है। वहीं, गौतमबुद्धनगर प्रशासन जिले में कार्यरत सभी कंपनियों-संस्थानों में कार्यरत महिलाओं की सुरक्षा और छेड़छाड़ में कमी लाने की कड़ी में एक APP लाने की योजना बना रहा है। इसके तहत दफ्तरों में कार्यरत महिलाएं अपनी शिकायत ऑनलाइन दर्ज करवा सकेंगीं। प्रदेश में इस तरह की सुविधा देने वाला नोएडा पहला जिला होगा।

नई व्यवस्था में अब कंपनी में कार्यरत महिलाएं मोबाइल ऐप पर यौन उत्पीड़न की शिकायत कर सकेंगी। इसे कार्य स्थल पर महिलाओं के साथ यौन उत्पीड़न (रोकथाम, निषेध और निवारण) अधिनियम 2013 को प्रभावी तरीके से लागू करने के लिए प्रशासन का बड़ा कदम बताया जा रहा है।

डीएम बीएन सिंह के मुताबिक, इंफ्रा इन्फॉर्मेशन टेक्नोलॉजी कंपनी (IITC) के साथ समझौता किया गया है। कंपनी अब वेबसाइट बनाएगी व मोबाइल ऐप लॉन्च करेगी।

बताया जा रहा है कि 15 अगस्त तक वेबसाइट व ऐप लांच हो जाएगी। 10 से अधिक महिलाओं के कार्यरत होने पर सभी संस्थानों को आंतरिक परिवाद समिति (internal compliance committee) का गठन करना होगा और समिति नहीं बनाने पर 50 हज़ार रुपये का जुर्माना लगेगा।

Social Media Auto Publish Powered By : XYZScripts.com