बढ़ती गर्मी से हलकान हुए लोग : बिजली कटौती पर फूटा गुस्‍सा, सड़क जाम कर किया प्रदर्शन

पिछले कुछ दिनों से ऐसा लग रहा है कि जैसे आसमान से आग बरस रही है। भीषण गर्मी से अब जनजीवन अस्त-व्यस्त होने लगा है। गर्मी से परेशान लोगों को बारिश का बेसब्री से इंतजार है। इनका कहना है कि ऐसी विकट गर्मी लगातार पड़ती रही तो बड़ी मुश्किल खड़ी हो जाएगी।

वहीं प्रचंड गर्मी में बिजली कटौती से परेशान पालम विहार एक्सटेंशन धर्म काॅलोनी के लोगों ने ट्रैफिक जाम लगाकर अपना विरोध दर्ज कराया। लोगों की शिकायत है कई दिनों से बिजली का संकट इलाके में बना हुआ है। बार-बार शिकायत करने के बाद भी बिजली निगम के अधिकारी ध्यान देने को तैयार नहीं। मजबूरन उन लोगों को जाम लगाना पड़ रहा है।

रविवार के दिन सुबह से ही गर्मी के तेवर को देख लोग घरों से बाहर निकलने से बचते रहे। बहुत जरूरी काम होने पर ही लोग घरों से बाहर निकल रहे थे। रविवार को शहर का अधिकतम तापमान 44.6 व न्यूनतम 30.8 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया है।

गर्म हवाओं और प्रचंड गर्मी से पूरा गुरुग्राम इस समय तप रहा है। मौसम की इस मार से लोगों को फिलहाल जल्द राहत मिलने की उम्मीद दिखाई नहीं दे रही है। साइबर सिटी में इस गर्मी के सीजन की बात की जाए तो पारा 47 डिग्री के पार पहुंच गया है। इस गर्मी से लोगों को पंखे, एसी और कूलर भी राहत नहीं दिला पा रहे हैं। वहीं रात में कई बार लाइट जाने से भी लोगों को बड़ी दिक्कत हो रही है।

घर के बाहर लू और घर के अंदर उमस भरी गर्मी बड़ी परेशानी खड़ी कर रही है। चिलचिलाती धूप और लू की वजह से दोपहर में सड़कों पर सन्नाटा सा माहौल दिखा। सिर्फ इंसानों को ही नहीं पशुओं और पक्षियों का भी गर्मी से बुरा हाल है।

कई स्थानों पर पानी नहीं मिलने पक्षी बेहोश होकर गिर रहे हैं। मौसम विभाग की मानें तो फिलहाल आठ जून तक इस गर्मी से किसी प्रकार की राहत नहीं मिलने वाली है। प्रचंड गर्मी को देखते हुए मौसम विभाग ने रेड अलर्ट जारी कर दिया है।

लू के थपेड़ों की प्रबलता लगातार घातक होती जा रही है। मौसम विभाग ने रविवार के लिए रेड अलर्ट जारी किया था। तीन जून को ऑरेंज और चार व पांच जून के लिए यलो अलर्ट जारी किया है। मौसम विभाग के पूर्वानुमान के अनुसार सोमवार को शहर का अधिकतम तापमान 43 डिग्री सेल्सियस रहने की संभावना है।