मंदिर में भंडारे के दौरान गंगा नदी में डूबे तीन युवक

जेवर कस्बे के सैकड़ों लोग शनिवार को करीब पांच बसों में बुलंदशहर जिले के आहार स्थित अवंतिका देवी मंदिर पर भंडारा करने गए थे। दोपहर में भीषण गर्मी में लोग गंगा स्नान करने लगे। गंगा स्नान के दौरान तीन युवक डूब गए। गोताखोरों की मदद से दो युवकों को सकुशल बाहर निकाल लिया गया जबकि एक युवक लापता हो गया।

गोताखोरों ने लापता युवक की काफी देर तक तलाश की, लेकिन देर शाम तक उसका कोई सुराग नहीं लग सका। स्टीमर की सहायता से गोताखोर लापता युवक की तलाश करते रहे। युवक के डूबने की सूचना मिलते ही जेवर में सन्नाटा पसर गया। युवक के घर लोगों का तांता लगा रहा।

बता दें कि जेवर से सैकड़ों महिला और पुरुष हर वर्ष की तरह इस वर्ष भी शनिवार को बुलंदशहर के आहार स्थित अवंतिका देवी मंदिर पर भंडारा करने गए थे। भंडारा समाप्त होने के बाद सभी लोग गंगा में स्नान करने लगे, तभी नरेश, प्रेमपाल व भीमसेन नहाते समय गंगा के गहरे पानी में अंदर तक चले गए और तेज बहाव के चलते तीनों युवक पानी में डूबने लगे। लोगों के शोर मचाने पर घाट पर मौजूद गोताखोरों ने युवकों को बचाने के लिए गंगा नदी में छलांग लगा दी।

गोताखोरों ने कड़ी मशक्कत के बाद प्रेमपाल व भीमसेन को सकुशल गंगा से बाहर निकाल लिया, लेकिन तीसरा युवक 22 वर्षीय नरेश पानी में बह गया। युवक की काफी तलाश की गई, लेकिन कामयाबी नहीं मिल सकी। पुलिस ने प्रशासन की सहायता से अनूपशहर से स्टीमर मंगाकर युवक की तलाश की गई, लेकिन देर शाम तक युवक का कुछ पता नहीं चल सका।

बताते चलें कि गंगा में डूबा युवक नरेश बीएससी का छात्र है। चार भाइयों में वह दूसरे नंबर पर है। युवक के पिता की चार वर्ष पूर्व बीमारी के चलते मौत हो चुकी है। युवक के साथ भंडारे में उसकी बहन व बहनोई के अलावा चचेरे भाई आदि भी साथ गए थे।