रामदेव ने कहा- जनसंख्या नियंत्रण के लिए कानून होना चाहिए, गिरिराज ने किया समर्थन

बेगूसराय. बिहार के बेगूसराय से भाजपा सांसद गिरिराज सिंह ने जनसंख्या नियंत्रण को लेकर योग गुरू बाबा रामदेव के बयान का समर्थन किया है। रामदेव ने कहा था कि जनसंख्या नियंत्रण के लिए कानून होना चाहिए। साथ ही तीसरी संतान को वोट देने और चुनाव लड़ने का अधिकार नहीं होना चाहिए। गिरिराज ने कहा कि जनसंख्या नियंत्रण को लेकर बाबा रामदेव के दिए बयान को हमें सकारात्मक तरीके से लेना होगा। विकास के लिए जनसंख्या नियंत्रण जरूरी है और इसके लिए सख्त कानून बने।

बाबा रामदेव रविवार को हरिद्वार में एक प्रेस कॉन्फ्रेंस में जनसंख्या नियंत्रण को लेकर बयान दिया था। उन्होंने कहा था कि अब कानून के जरिए ही आबादी पर लगाम लगाई जा सकेगी। बाबा ने दो बच्चों की नीति का समर्थन करते हुए कहा था कि तीसरी संतान को वोट डालने समेत अन्य नागरिक अधिकार नहीं मिलने चाहिए। ऐसे बच्चे चाहे किसी भी जाति के हों, उनके चुनाव लड़ने और अन्य सरकारी नौकरियों के हक से भी वंचित किया जाना चाहिए।

संसाधनों को देखते हुए जनसंख्या नियंत्रण जरूरी: गिरिराज

बेगूसराय में गिरिराज ने कहा कि जनसंख्या नियंत्रण पर कानून बनाने को लेकर अपनी राय पर हमेशा कायम रहूंगा। इस मुद्दे पर कानून की जरूरत है, जिससे देश के संसाधनों का समुचित इस्तेमाल किया जा सके। शोधकर्ताओं ने कहा है कि आने वाले समय में पानी और भोजन का संकट आएगा, लिहाजा भविष्य के लिए जनसंख्या नियंत्रण जरूरी है।

ओवैसी ने रामदेव के बयान पर तंज कसा
योग गुरू के बयान पर असदुद्दीन ओवैसी ने प्रतिक्रिया देते हुए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पर तंज कसा। ओवैसी ने ट्वीट में कहा था, ‘‘लोगों को असंवैधानिक बातें कहने से रोकने के लिए कोई स्पष्ट कानून नहीं है, लेकिन रामदेव के विचारों पर बेवजह ध्यान क्यों दिया जाता है? वह योग कर सकते हैं, इसका मतलब यह नहीं है कि मोदी सिर्फ इसलिए अपना मताधिकार खो देंगे, क्योंकि वह तीसरी संतान हैं।’’ ओवैसी लोकसभा चुनाव में हैदराबाद से चुनाव जीते हैं।

Social Media Auto Publish Powered By : XYZScripts.com