दिल्ली के कनॉट प्लेस में अज्ञात लोगों ने पुणे के डॉक्टर से जबरन लगवाए ‘जय श्री राम’ के नारे

26 मई की सुबह जब वह दिल्ली में कनॉट प्लेस के पास से गुजर रहे थे तो हनुमान मंदिर के सामने 5-6 युवक आए और उनका धर्म पूछने लगे. इतना कहते ही उन्होंने जय श्री राम के नारे लगाने को मजबूर किया.

जबरन ‘जय श्री राम’ के नारे लगवाने को लेकर देशभर से खबरें आ रही हैं. इस बीच मशहूर डॉक्टर और लेखक डॉ. अरुण गडरे पर भी राजधानी दिल्ली के पॉश इलाके कनॉट प्लेस में अज्ञात लोगों ने जबरन जय श्री राम के नारे लगाने का दबाव बनाया. ये घटना 26 मई की सुबह की है लेकिन लगातार सोशल मीडिया पर इसपर चर्चा जारी है.

अंग्रेजी अखबार द हिंदू के मुताबिक, 26 मई की सुबह जब वह दिल्ली में कनॉट प्लेस के पास से गुजर रहे थे तो हनुमान मंदिर के सामने 5-6 युवक आए और उनका धर्म पूछने लगे. इतना कहते ही उन्होंने जय श्री राम के नारे लगाने को मजबूर किया. हालांकि, उन्होंने इस घटना को लेकर आधिकारिक रूप से पुलिस में रिपोर्ट दर्ज नहीं करवाई है.

डॉ. अरुण गडरे पुणे के निवासी हैं और स्त्री रोग विशेषज्ञ डॉक्टर हैं. उनके दोस्त और वरिष्ठ पत्रकार अनंत बगनेतकर ने इस घटना के बारे में हर किसी को बताया.

अनंत के मुताबिक, ‘डॉ. अरुण को बिजनौर में एक लेक्चर देना था, इसके लिए वह जंतर-मंतर के पास रुके हुए हैं. 26 की सुबह कुछ लोगों ने उन्हें जबरन जय श्री राम के नारे लगाने को कहा.

मामला सामने आने के बाद डॉ. अरुण ने भी अपना एक बयान जारी किया और पूरे मामले को समझाया. उन्होंने कहा कि इस तरह की घटना होने से वह हैरान थे, लेकिन किसी तरह का बवाल नहीं चाहते थे.

आपको बता दें कि इस प्रकार की कई घटनाएं इन दिनों सुर्खियों में हैं. बीते दिन हरियाणा के गुरुग्राम में भी ऐसी ही घटना सामने आई थी, जब एक मुस्लिम युवक से कुछ लड़कों ने जबरन जय श्री राम का नारा लगाने को कहा. ऐसा ना करने पर लड़कों ने मुस्लिम युवक के साथ मारपीट भी की. गुरुग्राम के अलावा मध्य प्रदेश के सिवनी की घटना ने भी हर किसी को हैरान किया है.

Social Media Auto Publish Powered By : XYZScripts.com