चुनाव आयोग ने राहुल के चौकीदार बोलने पर लगायी रोक

रीवा। कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी शुक्रवार को रीवा के एसएएफ मैदान में अपने प्रत्याशी सिद्धार्थ तिवारी के पक्ष में चुनावी सभा करने पहुंचे। राहुल ने कहा कि नरेंद्र मोदी जी कहते थे कि आप मुझे प्रधानमंत्री बनाओ, तो मैं आपका चौकीदार बनकर दिखाऊंगा। फिर उन्होंने अदानी, अंबानी और मेहुल की चौकीदारी करना शुरू कर दी। लोगों को लगा था कि वे गरीब आदमी की चौकीदारी करेंगे। मुझे चुनाव आयोग कहता है कि आप ‘चौकीदार’ शब्द का प्रयोग नहीं कर सकते, क्योंकि जब आप चौकीदार बोलते हैं तो जनता ‘चोर है’ बोलती है। आजकल वे टेलीप्राम्पटर से देखकर भाषण देते हैं।

राहुल गांधी ने कहा कि आजकल नरेंद्र मोदी झिझक-झिझककर बात करते हैं। मैं आज किसानों, युवाओं और व्यापारियों को मैसेज देना चाहता हूं। रीवा में नोटबंदी और गब्बर सिंह टैक्स के कारण कई उद्योग बंद हुए। राहुल गांधी ने कहा कि देश में 27 हजार युवा 24 घंटे में रोजगार खोते हैं, चाइना में 50 हजार युवा 24 घंटे में रोजगार पाते हैं। इसीलिए हम न्याय योजना लेकर आए हैं। मैं व्यापारियों को कहना चाहता हूं, आप यह मत सोचिए यह न्याय योजना आपके लिए नहीं बनी। इसका सबसे ज्यादा फायदा हिंदुस्तान के छोटे बिजनेस चलाने वाले लोगों को होगा। लाखों करोड़ रुपए जैसे ही लोगों के बैंक अकाउंट में जाएगा, वैसे ही जनता छोटे व्यापारियों से साबुन, टूथपेस्ट छोटे सामान खरीदना शुरू करेगी। इसके साथ छोटे उद्योग फिर से शुरू होंगे और लोगों को फिर रोजगार मिलने लगेगा। जैसे इंजन में डीजल डाला जाता है वैसे ही हम अर्थ व्यवस्था को फिर शुरू करेंगे।

कांग्रेस अध्यक्ष ने कहा कि न्याय योजना का पैसा 5 करोड़ महिलाओं के खाते में जाएगा। पांच साल मोदी जी ने अन्याय की सरकार चलाई अब हम न्याय की सरकार चलाएंगे। तीनों राज्यों में बनी हमारी सरकारों ने तुरंत किसानों का कर्जा माफ किया। नीरव मोदी, विजय माल्या, अनिल अंबानी ने जो कर्जा लिया ये लोग अंदर हैं या बाहर। अगर रीवा का किसान 10 हजार रुपए कर्जा लेता है और वापस नहीं देता वो अंदर होता है या बाहर। अंदर होता है, कांग्रेस पार्टी को यह बात अच्छी नहीं लगी। 2019 में चुनाव जीतने के बाद देश का किसान कर्जा न लौटाने पर जेल में नहीं डाला जा सकेगा।

राहुल बोले- नरेंद्र मोदी जी ने सबसे बड़ा धोखा दिया, उन्होंने कहा था कि मैं युवाओं को रोजगार दूंगा। लेकिन आज सबसे ज्यादा 22 लाख सरकारी नौकरियां खाली पड़ी है। 10 लाख युवाओं को पंचायतों में रोजगार दिया जा सकता है। हमारी सरकार यह रोजगार देगी। रीवा के युवा अलग-अलग बिजनेस खोलता चाहते हैं, इसके लिए अनुमति लेनी पड़ती है, इसमें 6-7 महीने लग जाते हैं। हमनें निर्णय लिया है देश के किसी भी युवा को बिजनेस शुरू करने के लिए सरकारी विभाग से अनुमति लेने की जरूरत नहीं होगी। जो ज्यादा युवाओं को नौकरी देगा, बैंक उसे लोन देगी।

कमलनाथ बोले- मारने-काटने की मानसिकता हमारी नहीं

सीएम कमलनाथ ने मंच से भाजपा पर हमला बोला, उन्होंने कहा कि मोदी जी मारने-काटने की मानसिकता हमारी नहीं है, यह आपकी है। आपने हर वर्ग को धोखा दिया है। आपके आखिरी दिन आ रहे हैं। उन्होंने कहा कि मध्यप्रदेश की जनता सबकुछ सहने के लिए तैयार है, लेकिन धोखा सहने के लिए तैयार नहीं है। आप सच्चाई पहचानिए और सच्चाई का साथ दीजिए। रीवा में अस्पताल की समस्या है, आज मुझे दुख होता है कि यहां संजय गांधी अस्पताल में डॉक्टर नहीं है। लोगों को इलाज के लिए इलाहाबाद जाना पड़ता है इलाज के लिए मैं यहां सुपर स्पेशलिटी अस्पताल बनाऊंगा। फिर रीवा वालों को इलाहाबाद नहीं जाना होगा, इलाहाबाद वाले यहां आएंगे। जैसे ही वोटिंग खत्म होगी आपका कर्जा माफ होगा।

Social Media Auto Publish Powered By : XYZScripts.com