नई दिल्ली मेंसर्व भाषासाहित्य उत्सवभव्य रुप से समपन्न

नई दिल्ली मेंसर्व भाषासाहित्य उत्सवभव्य रुप से समपन्न

(सर्व भाषा साहित्य उत्सवमें लाल बिहारी लाल एवं जेपी दिवेदी सहित कई हस्तियाँ सम्मानित)

सोनू गुप्ता

नई दिल्ली। भाषा,साहित्य,कला और संस्कृति पर काम करने वाली संस्थासर्व भाषा ट्रस्टद्वारासर्व भाषा साहित्य उत्सवका भव्य आयोजन गांधी शांति प्रतिष्ठान में किया गया।कार्यक्रम के मुख्य अतिथि वयोवृद्ध स्वतंत्रता संग्राम सेनानी मेहता ओ. पी. मोहनऔर नेशनल लायूनिवर्सिटी के वरिष्ठ प्रोफेसर डाप्रसन्नांशु थे। कार्यक्रम की अध्यक्षता न्यास के अध्यक्ष ववरिष्ठ साहित्यकार डाअशोक लव ने की। मेहता ओ. पी. मोहन ने सर्व भाषा ट्रस्ट कीनीतियों की भूरि-भूरि प्रशंसा करते हुए कहा कि जिस प्रकार भारतीय संस्कृति वसुधैवकुटुंबकम् की अवधारणा पर सबको जोड़ना सिखाती है,उसी प्रकारसर्व भाषा ट्रस्टद्वारा भीकई भाषाओं केतहतसबको जोड़ा ही जा रहा है।

इस कार्यक्रम का आयोजनतीन सत्र मेंकिया गाया जिसमेंप्रथम सत्र में प्रसिद्ध चित्रकार असगर अली की संस्थाकलाभूमि द्वारा चित्र प्रदर्शनी,द्वितीय सत्र में न्यास की त्रैमासिक ई-पत्रिकासर्व भाषाके प्रवेशांक का लोकार्पणकिया गया। संस्था के सचिव एवं इसपत्रिका केसंपादक केशवमोहन ने बताया कि इसपहलेअंक में ही75रचनाकारों की कुल सत्रह भाषाओं में रचनाएँ प्रकाशितहुईहैं।इसके अलावे 6 अन्य पुस्तकोंका लोकार्पण किया गया। इसके उपरांत अतिथियों को सम्मानितकिया गया। मेहता ओ पी मोहन कोराष्ट्र रत्न सम्मानसे अलंकृत किया गया,वही शिाक्षाविद् डाप्रसन्नांशु,फिल्म एक्सपर्ट उदयवीर सिंह सेनापति,वरिष्ठ पत्रकार अशोक चतुर्वेदी,श्री प्रदीप गुलाटी,जनाब फरहान परवेज़कविपत्रकार लाल बिहारी लाल,जे.पी. दिवेदी,सुनिल सिन्हा,श्री जलज कुमार अनुपम,श्री राजकुमार अनुरागी व श्री प्रफुल्ल गोयलसहित अन्य साहित्यकार बंधुओ कोसर्व भाषा सम्मानसे सम्मानित किया गया।

कार्यक्रम के तीसरे चरण में काब्य गोष्ठी का आयोजनलोकप्रिय ग़ज़लगो श्री अजय अज्ञात अध्यक्षतामें आयोजन किया गया।जिसमें देश के विभिन्न क्षेओत्रं से दर्जनो कवियोंने हिस्सा लिया। अंत में धन्यवाद ज्ञापन के साथ कार्यक्रम का समापन हुआ।

Social Media Auto Publish Powered By : XYZScripts.com