भोपाल फूड कंट्रोलर का एक और बड़ा घोटाला

भोपाल फूड कंट्रोलर का एक और बड़ा घोटाला

भोपाल। घोटालों की पर्यावाची बन चुकी राजधानी की फूड कंट्रोलर ज्योति शाह नरवरिया का एक और लाखों का घोटाला उजागर हुआ है। करोड़ों का राशन चोरी करने वाली 38 पीडीएस दुकानें जिनके खिलाफ जिला खाद्य विभाग में पिछले सितंबर में FIR दर्ज कराई थी उनको आज तक कैंसिल नहीं किया गया है। इन 38 सरकारी राशन दुकानदारों ने एक साल से अधिक समय तक एक ही आधार नंबर और एक ही अंगूठे के निशान से बीपीएल परिवारों का करोड़ों का राशन चोरी किया था।

नियम अनुसार इन सभी 38 दुकानों को कैंसिल कर इनकी जगह नए संस्थानों को दुकान आवंटन करना चाहिए था। मगर कुछ फर्जी टैक्निकल वजह की आड़ में फूड कंट्रोलर ने इन दुकानों को आज तक कैंसिल नहीं किया है।  कुछ दुकानदारों ने नाम न छापने की शर्त पर बताया कि दुकान कैंसिल नहीं करने के बदले ज्योति शाह नरवरिया ने हर दुकानदार से एक लाख से अधिक रुपए लिए हैं।

इस बारे में जब जीपी माली एडीएम से बात की तो उन्होंने बताया कि FIR कराई गई दुकानों को कैंसिल करने के आदेश FIR कराते समय ही दे दिये गए थे। जीपी माली ने फूड कंट्रोलर से जानकारी लेकर कनफर्म किया कि FIR कराई गई 38 दुकानों को अभी तक कैंसिल नहीं किया गया है। उन्होंने कहा कि जिला प्रशासन इन दुकानों को जल्दी ही कैंसिल कराएगा और जिम्मेदार अधिकारियों के खिलाफ उचित कार्रवाई की जाएगी।
Source:Agency

Social Media Auto Publish Powered By : XYZScripts.com