जिले में पुलिस की कार्रवाई

🔴 आठ चालान बनाकर 4 हजार रुपए समन शमन शुल्क वसूला

बड़वानी। जिले के नागलवाड़ी पुलिस ने 8 चालान बनाकर चार हजार रुपए शमन शुल्क वसूला। थाना प्रभारी विनोद बघेल ने बताया कि एसपी द्वारा सड़क दुर्घटनों में कमी लाने के लिए और ओवरलोड वाहनों पर कार्रवाई के लिए निर्देशित किया हैं। इसके परिपालन पुलिस ने पीएस मशीन से 8 चालान बनाकर 4 हजार रुपए शमन शुल्क वसूला। साथ ही आम से आह्वान किया कि पिकअप वाहन व्यवसायिक उपयोग के लिए है, उसमे सवारी का परिवहन नहीं करें। ऐसे वाहनों के विरुद्ध कार्रवाई जारी रहेगी।
➖➖➖➖➖➖➖➖➖➖➖➖➖➖

🔴 दो ट्रकों में तीन-तीन ट्रन ओव्हरलोड चावल पाया गया

बड़वानी। यातायात पुलिस ने जांच कार्रवाई करते दो ओव्हरलोड ट्रकों पर कार्रवाई की। यातायात प्रभारी रजनी भार्गव ने बताया कि एसपी के निर्देशन में चैकिंग के दौरान ट्रक क्रमांक एमपी 09 एचएच 9564 और ट्रक क्रमांक आरजे 27 जीसी 5611 जो मेघनगर से सेंधवा चावल का परिवहन करते पाए गए। इस दौरान वाहन के दस्तावेज चेक करने पर दोनों ट्रकों में माल 3-3 टन ओवरलोड पाया गया। परमिट शर्तांे के उल्लंघन में वाहन पुलिस अभिरक्षा मे लेकर दस्तावेज जब्त किए। आगामी कार्रवाई के लिए आरटीओ कार्यालय में पेश किया। वहां यातायात नियमों का उल्लंघन करने वालों के विरुद्ध कार्रवाई जारी रहेगी।

➖➖➖➖➖➖➖➖➖➖➖➖➖➖

🔴 नाबालिक लड़की को 700 किमी गुजरात से दस्तयाब किया
बड़वानी। जिले के राजपुर पुलिस ने गुम नाबालिक लड़की को 700 किमी दूर गुजरात के जेतलसर से दस्तायाब किया। थाना प्रभारी यशवंत बड़ोले ने बताया कि 29 अगस्त को फरियादी ने रिपोर्ट लिखाई थी कि उसकी 15 वर्षीय लड़की 27 अगस्त को ग्राम भागसुर मजदूरी करने गई थी, वहां से वापस नहीं आई। उन्होंने शंका जताई कि उसकी नाबालिक लड़की को कोई अज्ञात बदमाश बहला फुसलाकर भगाकर ले गया है। फरियादी की रिपोर्ट पर अपराध धारा 363 भादवि का पंजीबद्ध कर विवेचना में लिया गया। पुलिस टीम ने पतारसी करते हुए मुखबिर तंत्र से पता चला कि उक्त अपहृता की राजकोट गुजरात में होने की सूचना मिली। वहां पुलिस ने पहुंचकर अपहृता की लगातार तलाश की और दस्तयाब कर थाने लेकर आए। वहां पूछताछ कर कथन लिए। अपह्ता ने कथन में बताया कि घर की बात पर माता-पिता ने डांटा था, इसलिए वो गुस्से में आकर  गुजरात चली गई थी। वहां एक वृद्धा से पहचान हो गई थी, जो अकेली रहती थी। उसके साथ मजदूरी कर रही थी। पुलिस ने अपहृता को उसके माता पिता के सुपुर्द किया।

➖➖➖➖➖➖➖➖➖➖➖➖➖➖

🔴 आरोपित के कब्जे से अपह्ता को मुक्त कराया
🔵 दुष्कर्म के मामले में आरोपित को केंद्रीय जेल भेजा
बड़वानी। राजपुर पुलिस ने नाबालिक लड़की को बहला फुसलाकर भगाकर ले जाने वाले आरोपित को पिथमपुर से गिरफ्तार किया और अपहृता को कब्जे से मुक्त करवाकर माता-पिता के सुपुर्द किया। वहीं अपह्ता के कथन अनुसार आरोपित उसे शादी के नाम पर भगा कर ले गया और दुष्कर्म किया। इसके बाद पुलिस ने आरोपित 25 वर्षीय सचिन पिता सुरेश पंचोले निवासी इमलीपुरा के विरुद्ध धारा 363, 366, 376, 376 (2) एन भादवि और 5 एल, 6 पास्को एक्ट में मामला दर्ज कर न्यायालय में पेश किया। वहां से उसे केंद्रीय जेल भेजा गया।
पुलिस ने बताया कि 28 अगस्त को फरियादी ने रिपोर्ट लिखाई थी कि उसकी 16 वर्षीय लड़की घर से ट्यूशन जाने का बोलकर गई थी, जो वापस नहीं आई। पुलिस ने धारा 363 भादवि का पंजीबद्ध कर विवेचना में लिया गया। एसपी के निर्देशन में पुलिस ने विवेचना करते हुए अपहृता के पीथमपुर में होने की सूचना मिली। पुलिस ने वहाुं पहुंचकर अपहृता और संदेही सचिन कुशवाह को छत्रछाया पीथमपुर जिला धार में जाते हुए पकड़ा और थाने लेकर आए। पूछताछ में अपहृता से पूछताछ करते बताया कि आरोपित उसे शादी करने का बोलकर भगाकर पीथमपुर ले गया और वहां पर कई बार दुष्कर्म किया। पुलिस ने आरोपित के विरुद्ध और धाराएं बढ़ाई। आरोपित ने भी अपना जुर्म स्वीकार किया। आरोपित को बड़वानी न्यायालय में पेश किया। जहां से उसे केंद्रीय जेल भेजा गया। वहीं अपहृता को उसके माता-पिता के सुपुर्द किया।

➖➖➖➖➖➖➖➖➖➖➖➖➖➖➖

🔴 स्टापडेम के 5 गेट चोरी करने वाले 5 आरोपित गिरफ्तार

बड़वानी। सिलावद पुलिस ने नाले पर बने स्टापडेम के गेट चोरी मामले में 5 लोगों को गिरफ्तार किया हैं। थाना प्रभारी विजय रावत ने बताया कि फरियादी कमलेश पिता शांतिलाल भावसार ने 14 सितंंबर को बताया कि नाले पर बनी बड़ी पुलिया स्टाप के पास आम का पेड़ के नीचे ग्राम तांगड़ा में अज्ञात व्यक्ति द्वारा स्टाप डेम में लगाए जाने वाले लोहे के 50 हजार रुपए मूल्य के 5 गेट, जिस पर पहचान का अक्षर चिह्न भी हैं, वो कोई चुराकर ले गया। पुलिस ने मामला दर्ज कर जांच में लिया। इस दौरान पुलिस को मुखबिर से पता चला कि कुछ लोग भंगार वाले के यहां डेम के पतरे बेचने की बात कर रहे हैं। इस पर पुलिस टीम ने मुखबिर के बताए स्थान पर दबिश देकर संदेहियों को पकड़ा और थाने लेकर आए। संदेहियों ने अपने नाम समरथ उर्फ सुंदरा पिता रमेश निवासी नदीपार सिलावद, हीरा पिता मुकेश निवासी कदवालिया, अनिल पिता मुनीर निवासी नदीपार सिलावद, अरविंद पिता बल्लू निवासी डोमरिया खोदरा और सुनिल पिता भगवान निवासी नदीपार सिलावद से पूछताछ की। प्रारंभिक पूछताछ में आरोपित ना नुकूर करते रहे, लेकिन सख्ती से पूछताछ में आरोपितों ने अपना जुर्म स्वीकार करते हुए एक माह पूर्व चोरी की बात कही। उनकी निशानदेही पर पुलिस ने नदी पार ही बबूल की झाडिय़ों के बीच मिट्टी में छिपाकर रखे पांच लोहे के गेट जब्त किए। कार्रवाई में थाना प्रभारी सहित सहायक उपनिरीक्षक कृष्ण कुमार आर्य, प्रधान आरक्षक राकेश अण्डेलकर, राजमल गोखले, आरक्षक ज्ञानेश्वर तायड़े, आत्माराम खोड़े, बाबूलाल निगोले, शुभम मालवीया, जगन माली, सुभाष तोमर शामिल थे।

➖➖➖➖➖➖➖➖➖➖➖➖➖➖

🔴 विवाहिता से दुष्कर्म करने वाले आरोपित को जेल भेजा
बड़वानी। जिले की राजपुर पुलिस ने एक विवाहिता से दुष्कर्म के मामले में आरोपित को गिरफ्तार कर जेल भेजा गया। पुलिस ने बताया कि 6 सितंबर को फरियादिया ने रिपोर्ट लिखाई थी कि करीब डेढ़ माह पूर्व उसके पति घर पर नहीं थे और बच्चे सोए थे। तभी रात्रि 11 बजे मोहल्ले का आरोपित पन्नालाल पिता दयाराम घर में घुस गया और मर्जी के खिलाफ दुष्कर्म किया। साथ ही जान से मारने की धमकी दी। इसके बाद जब उसके पति खेत में गए थे, तब आरोपित घर आया और बुरी नियत से हाथ पकड़कर जबदस्ती करने लगा। मना करने पर उसने धक्का देकर लकड़ी से मारपीट की। तभी उसके पति भी घर आ गए तो आरोपित धन्नालाल भाग गया। पुलिस ने धारा 376 सहित अन्य विभिन्न धाराओं मं मामला दर्ज कर विवेचना में लिया। पुलिस ने टीम गठित कर आरोपित की तलाश शुरु की। इस दौरान पता चला कि आरोपित पन्नालाल बंजारा बस में बैठकर कही भागने के लिए खड़की फाटा पर खड़ा है। पुलिस ने वहां पहुंची, तो आरोपित वहां से भागने लगा, जिसे घेराबंदी कर पकड़ा। पूछताछ में आरोपित ने अपना जुर्म स्वीकार किया। आरोपित को न्यायालय में पेश किया। वहां से उसे जेल भेज गया।

➖➖➖➖➖➖➖➖➖➖➖➖➖➖➖

 🔴 विवाहिता से दुष्कर्म करने वाले आरोपित को जेल भेजा
बड़वानी। जिले की राजपुर पुलिस ने एक विवाहिता से दुष्कर्म के मामले में आरोपित को गिरफ्तार कर जेल भेजा गया। पुलिस ने बताया कि 6 सितंबर को फरियादिया ने रिपोर्ट लिखाई थी कि करीब डेढ़ माह पूर्व उसके पति घर पर नहीं थे और बच्चे सोए थे। तभी रात्रि 11 बजे मोहल्ले का आरोपित पन्नालाल पिता दयाराम घर में घुस गया और मर्जी के खिलाफ दुष्कर्म किया। साथ ही जान से मारने की धमकी दी। इसके बाद जब उसके पति खेत में गए थे, तब आरोपित घर आया और बुरी नियत से हाथ पकड़कर जबदस्ती करने लगा। मना करने पर उसने धक्का देकर लकड़ी से मारपीट की। तभी उसके पति भी घर आ गए तो आरोपित धन्नालाल भाग गया। पुलिस ने धारा 376 सहित अन्य विभिन्न धाराओं मं मामला दर्ज कर विवेचना में लिया। पुलिस ने टीम गठित कर आरोपित की तलाश शुरु की। इस दौरान पता चला कि आरोपित पन्नालाल बंजारा बस में बैठकर कही भागने के लिए खड़की फाटा पर खड़ा है। पुलिस ने वहां पहुंची, तो आरोपित वहां से भागने लगा, जिसे घेराबंदी कर पकड़ा। पूछताछ में आरोपित ने अपना जुर्म स्वीकार किया। आरोपित को न्यायालय में पेश किया। वहां से उसे जेल भेज गया।

 

Social Media Auto Publish Powered By : XYZScripts.com