शहर में रातभर निकला झांकियों का कारवां, डीजे साउंड की रही धूम

🔴 विभिन्न धार्मिक प्रस्तुतियों की झांकियों ने मनमोहा, शहर में निकली 30 से अधिक झांकियां

✍️ हमारा मेट्रो, इम्तियाज intu

बड़वानी। शहर में अनंत चुदार्शी पर शुक्रवार रात्रि शहर में 30 से अधिक चलित झांकियां निकली। इस दौरान विशेष तौर पर युवाओं में एलइडी डिस्को लाइट्स से सजे डीजे साउंड का क्रेज अधिक नजर आया। युवाओं की टोलियां रातभर जमकर थिरकी। प्रत्येक झांकी के साथ युवाओं की टोलियां भजनों पर थिरकते हुए चल रही थी। वहीं बजरंग व्यायाम शाला अखाड़े के पहलवानों ने भी हेरतअंगेज करतब दिखाए।

शुक्रवार रात्रि 10 बजे से तिरछी पुलिया क्षेत्र से शुरु हुआ झांकियों का कारवां विभिन्न मार्गांे से गुजरा। इस दौरान शनिवार सुबह 5 बजे पहली झांकी चंचल चौराहा तक पहुंची, जबकि आखिरी झांकी तुलसीदास मार्ग पर मौजूद रही। कोरोना के दो वर्ष बाद गणेशोत्सव चल समारोह में खासा उल्लास देखने को मिला। चल समारोह के लिए गणेश मंडल समितियों ने शहर व क्षेत्र सहित विभिन्न शहरों से डीजे साउंड बुलाए गए थे। जिन पर भजनोंं के साथ आकर्षक डिस्को एलइडी लाइट्स ने अपनी मनोरम छटा बिखेरी। चल समारोह के दौरान पुलिस व जिला प्रशासन मुस्तैद रहा। लोगों की भीड़, झांकियों का कारवा और चल समारोह मार्गों पर खाकी का साया रहा। मुख्य मार्ग के सब मार्गों पर बेरिकेट्स लगाए गए।

इस मौके पर तिरछी पुलिया से लेकर झंडा चौक, रणजीत चौक, एमजी रोड, मोटीमाता, पालाबाजार क्षेत्र तक स्थाई व अस्थाई दुकानें सजी।
🔴 अगले बरस तू जल्दी आ… के साथ दी विदाई
शुक्रवार को अनंत चतुदर्शी की सुबह गणपति बप्पा मोरिया… अगले बरस तू जल्दी आ… के जयघोष के साथ भगवान श्रीगणेश को विदाई दी। इस मौके पर दिनभर शहर में ढोल-ताशों के साथ जयघोष गूंजे।

🔴 नगर पालिका द्वारा प्रतिमा विसर्जन के लिए राजघाट रोड स्थित पुराने फिल्टर प्लांट परिसर में कुंड बनाया था। वहीं शुक्रवार रात्रि 8 बजे से झिलमिल झांकियों का कारवां निकलना शुरु हुआ। बता दें कि नर्मदा के बढ़े जलस्तर और बारिश तथा पर्व के चलते प्रशासन ने धारा 144 लागू की इसके लिए नदी-तालाबों में प्रतिमा विसर्जन प्रतिबंधित किया गया।  इसके तहत शुक्रवार सुबह से गणेश प्रतिमाओं को ढोल-मांदल के साथ विसर्जन के लिए राजघाट रोड लेकर पहुंचे। वहां प्रतिमाएं कुंड में विसर्जित की गई।  


🔴 सवा क्विंटल मोदक का भोग लगाया
अन्नत चतुदर्शी के अवसर पर शहर की जंबू गली स्थित श्री पाताल गणेश मंदिर में बप्पा को सवा क्विंटल मोदक का भोग लगाया गया। साथ ही धार्मिक अनुष्ठान हुए। वहीं धोबडिय़ा हिल्स स्थित सिद्धि विनायक मंदिर में अभिषेक, आरती पूजन के आयोजन हुए। 

Social Media Auto Publish Powered By : XYZScripts.com