नर्मदा घाट पर लटकी ट्रैक्टर ट्रॉली, -बड़ा हादसा टला

🔴 सुरक्षा के मद्देनजर नहीं हैं रोहिणी तीर्थ पर कोई व्यवस्था

हमारा मैट्रो, बड़वानी

जिला मुख्यालय से चार किमी दूर राजघाट स्थित नर्मदा किनारे पुराने घाट पर बड़ा हादसा होते बचा। इस दौरान बरसते पानी में परिसर में खड़ा एक ट्रैक्टर ट्रॉली अचानक स्टार्ट हो गई और राजघाट के पुराने घाट पर वॉटर लेवल वाले स्थान पर लटक गया। देर शाम तक ट्रैक्टर को वहां से नहीं हटाया गया।
बता दें कि नर्मदा तट पर बड़ी  संख्या में श्रद्धालुओं की आवाजाही बनी रहती हैं। विशेषकर नया घाट बनने से श्रद्धालु यहां सुबह-शाम पहुंचते हैं। वहीं यहां सुरक्षा को लेकर कोई विशेष इंतजाम नहीं हैं। राजघाट में प्राचीन दत्त मंदिर के पास परिसर में एक खड़ी एक ट्रैक्टर ट्रॉली अचानक चालु होकर घाट पर जाकर लटक गई। हालांकि इस दौरान कोई नुकसानी नहीं हुई। इसका कारण बारिश होना था। अगर बारिश नहीं होती तो घाट व परिसर में कई लोग इसके शिकार भी हो सकते थे।
🔴 डूबी ट्रॉली निकालने की जुगत में थे…?
बता दें कि नर्मदा का जलस्तर अचानक बढऩे से रेत खनन स्थल पर खड़ी एक ट्रॉली गत दिनों डूब गई थी। राजघाट के श्रद्धालुओं के अनुसार उक्त ट्रैक्टर डूबी ट्रॉली को निकालने की जुगत में खड़ा था। वहीं सूत्रों की माने तो डूबी ट्रॉली को निकालने के लिए प्रतिदिन ट्रैक्टर ट्रॉली यहां पहुंचकर तरह-तरह के हथकंडे अपना रहे हैं, लेकिन जलस्तर काफी बढऩे से ट्रॉली निकलना संभव नहीं हो पा रहा हैं।


🔴 राजघाट में आया प्रशाासन, देर शाम क्रेन से ट्रॉली निकाली
नर्मदा तट राजघाट में लटकने की घटना सोशल मीडिया पर जमकर वायरल हुई। इसके बाद देर शाम प्रशासनिक अमला संसाधनों के साथ यहां पहुंचा और ट्रॉली को निकालने की कार्रवाई शुरु की। क्रेन की मदद से देर शाम 7.45 बजे ट्रॉली को हटाया गया।


🔴 खनिज विभाग करेगा आगामी कार्रवाई
एसडीएम घनश्याम धनगर ने बताया कि सार्वजनिक स्थान पर इस तरह की घटना हादसे का कारण बन सकती थी। लटकी ट्रैक्टर ट्रॉली को क्रेन की मदद से निकाल लिया गया हैं। उसे जब्त कर खनिज विभाग के सुपुर्द करवाया हैं। खनिज विभाग इसकी जांच कर आगामी कार्रवाई करेगा। इस दौरान तहसीलदार आशा परमार, नपा सीएमओ कुशलसिंह डोडवे, थाना प्रभारी शंकरसिंह रघुवंशी सहित पुलिस व प्रशासनिक अमला मौजूद था।

Social Media Auto Publish Powered By : XYZScripts.com