भारत नहीं है जी-7 का सदस्य, लेकिन पीएम मोदी को इसमें शामिल होने के लिए न्योता मिला है। आखिर ये मुमकिन कैसे हुआ ?

जी 7 देशों के सम्मेलन में हिस्सा लेने के लिए प्रधानमंत्री मोदी फ्रांस पहुंच गए हैं। प्रधानमंत्री मोदी कल ही फ्रांस पहुंचे थे। भारत जी-7 देशों के समूह का हिस्सा नहीं है, लेकिन फ्रांस के राष्ट्रपति इमैनुअल मैक्रों के विशेष निमंत्रण पर मोदी वहां पहुंचे हैं। यह वैश्विक पटल पर भारत की बढ़ती ताकत को दिखाता है।

भारत को कैसे मिला न्योता ?
भारत जी 7 देशों का सदस्य ना होने के बावजूद इस सम्मेलन में अगर भाग ले रहा है तो इसका सबसे बड़ा कारण है फ्रांस और भारत की बढ़ती नजदीकियां। प्रधानमंत्री मोदी, फ्रांस के राष्ट्रपति इमैनुअल मैक्रों के निमंत्रण पर वहां पहुंचे हैं।

दरअसल, फ्रेंच राष्ट्रपति इमैनुअल मैक्रों ने इसबार जी 7 देशों के समूह के सम्मेलन के लिए सदस्य देशों से अलग कुछ खास देशों को आमंत्रित किया है, जो दुनिया की राजनीति में खास जगह रखते हैं। इस सूची में भारत तका नाम सबसे ऊपर है। भारत के साथ ही ऑस्ट्रेलिया, स्पेन, दक्षिण अफ्रीका, सेनेगल और रवांडा जैसे देशों को भी ठीक भारत की तरह इस सम्मेलन में शामिल होने का न्योता मिला है।

दुनिया में बढ़ती भारत की पहचान
भारत के विदेश मंत्रालय के मुताबिक जी 7 देशों के समूह सम्मेलन में पीएम मोदी को आमंत्रित किया जाना दुनिया में भारत की बढ़ती पहचान को दिखाता है। भारत और फ्रांस के बीच मधुर और प्रगाण संबंधों का असर भी इसमें देखा जा सकता है। फ्रांस के राष्ट्रपति ने कल वहां पहुंचने पर पीएम मोदी से मुलाकात की थी। इस दौरान दोनों नेताओं के बीच की गर्मजोशी देखने लायक थी।

क्या है G-7 समूह ?
जी 7 समूह दुनिया के सात विकसित राष्ट्रों का एक समूह है, इसमें कनाडा, फ्रांस, जर्मनी, इटली, जापान, ब्रिटेन और अमेरिका शामिल हैं। जी-7 के ये सात देश दुनिया की अर्थव्यवस्था की चाल और रफ्तार का दिशा-निर्देश करते हैं। इन 7 देशों का दुनिया की 40 फीसदी जीडीपी पर कब्जा है।

कनाडा के प्रधानमंत्री जस्टिन ट्रूडो ने  G7 शिखर सम्मेलन में आमंत्रित अतिथियों के साथ पारिवारिक फोटो के बाद पीएम नरेंद्र मोदी से हाथ मिलाया।

ब्रिटेन के प्रधान मंत्री बोरिस जॉनसन ने जी-7 शिखर सम्मेलन के दौरान एक द्विपक्षीय बैठक में नरेंद्र मोदी से मुलाकात की।

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने जी 7 शिखर सम्मेलन के दौरान संयुक्त राष्ट्र महासचिव एंटोनियो गुटेरेस के साथ मुलाकात की। इस दौरान उनदोनों ने हाथ मिलाते हुए यह तस्वीर खिंचाई।

ट्रंप-मोदी की मुलाकात पर नजर
फ्रांस के बियारित्ज शहर में आज पीएम मोदी और भारत के लिए काफी अहम दिन है। आज मोदी अमेरिका और फ्रांस के राष्ट्रपति से मुलाकात करेंगे। इस दौरान सबकी निगाहें पीएम मोदी और ट्रंप की मुलाकात पर रहेंगी, दोनों नेता द्विपक्षीय मुद्दों पर चर्चा करेंगे। वहीं इस दौरान कश्मीर मुद्दे पर भी चर्चा होने वाली है।

पीएम मोदी आज जी 7 में जैव विविधता और जलवायु पर चर्चा में भी हिस्सा लेंगे।इसके अलावा डिजिटल ट्रॉन्सफार्मिंग पर आयोजित चर्चा में भी शरीक होंगे।

Social Media Auto Publish Powered By : XYZScripts.com