मेजबान इंग्लैंड की टीम ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ आज इतिहास रच सकती है

Ashes 2019 England vs Australia 3rd Test: मेजबान इंग्लैंड की टीम ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ आज यानी रविवार 25 अगस्त को इतिहास रच सकती है। इंग्लैंड और ऑस्ट्रेलिया के बीच एशेज सीरीज का तीसरा टेस्ट मैच लीड्स के हेडिंग्ले में खेला जा रहा है। इस मैच की तीन पारियां खत्म हो चुकी हैं। रविवार को इंग्लैंड की टीम अपनी चौथी पारी की शुरुआत तीन विकेट से आगे करेगी।

लीड्स टेस्ट मैच के तीन दिन के खेल समाप्त होने के बाद तक का लेखा-जोखा कुछ इस तरह है कि इंग्लैंड की टीम ने टॉस जीतकर पहले गेंदबाजी चुनी थी और ऑस्ट्रेलियाई टीम ने पहले बल्लेबाजी करते हुए  सभी विकेट खोकर 179 रन बनाए। इसके बाद जो हुआ उसका अंदाजा ना तो किसी खेल प्रेमी को था और ना ही इंग्लैंड और ऑस्ट्रेलियाई टीम को रहा होगा।

दरअसल, ऑस्ट्रेलिया को 200 रन से पहले ढेर करने के बाद जब इंग्लैंड की टीम पहली पारी में बल्लेबाजी करने उतरी तो महज 67 रन पर ढेर हो गई। 10 बल्लेबाज दहाई का आंकड़ा तक नहीं पार कर पाए। इस तरह ऑस्ट्रेलिया को 112 रन की बेसकीमती बढ़त मिल गई। इसके बाद दूसरी पारी में ऑस्ट्रेलिया ने सभी विकेट खोकर 246 रन बनाए और इंग्लैंड को एक विशाल स्कोर का लक्ष्य दिया।

इंग्लैंड की टीम जब 359 रन के टारगेट का पीछा करने उतरी तो एक बार फिर से सलामी जोड़ी फ्लॉप साबित हुई। बाद में कप्तान जो रूट और जो डेनली ने टीम को संभाला। हालांकि, जो डेनली 50 रन बनाकर आउट हो गए। इस तरह तीसरे दिन का खेल समाप्त होने तक इंग्लैंड की टीम ने 3 विकेट खोकर 156 रन बना लिए थे। इंग्लैंड की टीम को जीत के लिए अभी भी 203 रन और बनाने हैं।

ये रचा जाएगा इतिहास

अब बात करते हैं उस इतिहास की जो इंग्लैंड की टीम रच सकती है। हालांकि, ऑस्ट्रेलिया के गेंदबाजी आक्रमण के सामने ये कठिन होगा, लेकिन कप्तान जो रूट एक छोर संभाले रहे और बाकी खिलाड़ी उनका साथ देते रहे तो इंग्लिश टीम इतिहास रच सकती है। टीम को सात विकेट बचाने हैं और दो दिन के करीब 180 ओवर के खेल में टीम को 203 रन बनाने हैं, जो कि चौथी पारी में आसान नहीं है।

दरअसल, इंग्लैंड की टीम ने एशेज सीरीज के 140 साल से ज्यादा के इतिहास में कभी भी 350 से ज्यादा का स्कोर चेज नहीं किया है। ऐसे में मेजबान टीम इंग्लैंड के पास मौका है कि वो एक इतिहास रचें और दिखा कि वे भी मैच बचाना जानते हैं। हालांकि, इस एशेज सीरीज में इंग्लैंड की ओर से कोई भी बल्लेबाज कुछ खास कमाल नहीं दिखा पाया है। ऐसे में उम्मीद सिर्फ कप्तान जो रूट से हैं।

Social Media Auto Publish Powered By : XYZScripts.com