श्रवणबेलगोला जैन तीर्थ मुख्यमंत्री तीर्थ-दर्शन योजना में शामिल होगा

श्रवणबेलगोला जैन तीर्थ मुख्यमंत्री तीर्थ-दर्शन योजना में शामिल होगा

 

मुख्यमंत्री श्री शिवराज सिंह चौहान ने कहा है कि मुख्यमंत्री तीर्थ-दर्शन योजना में कर्नाटक के प्रसिद्ध जैन तीर्थ श्रवणबेलगोला को शामिल किया जायेगा। उन्होंने कहा कि अगले वर्ष भगवान बाहुबली के महामस्तकाभिषेक में शामिल होने के लिये प्रदेश के विभिन्न जिलों से विशेष ट्रेन जायेगी। श्री चौहान ने कहा कि जैन आचार्य श्री विद्यासागर महाराज की दीक्षा के पचास वर्ष पूरे होने पर अक्टूबर में उनके जन्म-दिन पर जीव दया सम्मान पुरस्कार दिया जायेगा। यह पुरस्कार जीव दया के लिये काम करने वाले व्यक्ति या संस्था को दिया जायेगा। श्री चौहान आज मुख्यमंत्री निवास पर क्षमा वाणी कार्यक्रम को संबोधित कर रहे थे। उल्लेखनीय है कि प्रदेश में सर्वधर्म समभाव की परंपरा को आगे बढ़ाते हुए क्षमावाणी कार्यक्रम आयोजित किया गया। मुख्यमंत्री हर धर्म के पर्व का मुख्यमंत्री निवास में आयोजन करते हैं।

कार्यक्रम में श्री चौहान ने सभी से क्षमा माँगी। उन्होंने कहा जो क्षमा कर दे वही साहसी है। उन्होंने कहा कि प्रत्येक जिले में एक गौ-शाला खोली जायेगी इससे गौ-माता का संरक्षण होगा। इसमें समाज का सहयोग जरूरी है। उन्होंने बताया कि इसी माह से आगर के सुसनेर में गौ-अभयारण्य का शुभारंभ हो जायेगा।

श्री चौहान ने बेटियों को देवी का स्वरूप बताते हुए कहा कि बेटियों को बुरी नजर से देखने वालों को फाँसी की सजा होनी चाहिये। उन्होंने कहा कि इसके लिये कानून बनाने के संबंध में केन्द्र से भी चर्चा की जायेगी। श्री चौहान ने कहा कि नर्मदा के किनारों की सभी शराब की दुकानों को बंद कर दिया गया है। अब प्रदेश में कोई भी नई शराब डिस्टलरी और दुकान नहीं खुलेगी। अगले साल बची शराब की दुकानें भी बंद कर दी जायेंगी। श्री चौहान ने कहा कि नशा मुक्ति अभियान समाज के सहयोग से ही सफल हो सकता है।

इस अवसर पर सभी धर्मों के धर्मगुरू, पूर्व मुख्यमंत्री श्री कैलाश जोशी, वित्त मंत्री श्री जयंत मलैया, लोक निर्माण मंत्री श्री रामपाल सिंह, संस्कृति राज्य मंत्री श्री सुरेन्द्र पटवा, लोक स्वास्थ्य राज्य मंत्री श्री शरद जैन, विधायक श्री शैलेन्द्र जैन, सांसद श्री आलोक संजर, भाजपा उपाध्यक्ष श्री विजेश लूनावत, राज्य योजना आयोग के उपाध्यक्ष श्री चेतन काश्यप और बड़ी संख्या में जैन समाज के सदस्य उपस्थित थे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *