चाइनीज मोबाइल कंपनियों को भेजा नोटिस, कहा- नियम मानो नहीं तो जुर्माना दो

मोदी सरकार ने कई चाइनीज मोबाइल कंपनियों को भेजा नोटिस, कहा- नियम मानो नहीं तो जुर्माना दो

Image result for chinese mobile company

मोदी सरकार ने स्मार्टफोन बनाने वाली चाइनीज कंपनियों ओप्पो, वीवो, शियोमी और जियोनी समेत 21 कंपनियों को नोटिस जारी किया है। सरकार को डर है कि कहीं मोबाइल कंपनियां लोगों का डेटा चुराकर किसी तीसरे देश को न बेच रही हों। सरकार ने कंपनियों को नोटिस जारी कर पूछा है कि तुम्हारे फोन में डेटा की सुरक्षा के लिए क्या इंतजाम किए गए हैं। टाइम्स ऑफ इंडिया के मुताबिक कंपनियों को 28 अगस्त तक इसके बारे में अपनी रिपोर्ट देनी है। नोटिस पाने वाली कंपनियों में एप्पल, सैमसंग और माइक्रोमेक्स जैसी कंपनियां भी हैं। अगर मोबाइल कंपनियों की तरफ से कोई अनियमितता पाई जाती है, तो कंपनियों को जुर्माना देना होगा। डेटा सुरक्षा और लीक को लेकर चीन से इलेक्ट्रोनिक्स और आईटी प्रॉड्क्टस के बड़े पैमाने पर होने वाले इंपोर्ट की समीक्षा शुरू कर दी है। सरकार ने यह कदम ऐसे समय पर उठाया है जब डोकलाम को लेकर भारत और चीन का विवाद चल रहा है।

ऐसी खबरें आ रही हैं कि मोबाइल हैंडसेट से डेटा चोरी करके तीसरे देश को भेजा जा रहा है। भारत में ज्यादातर चीन की मोबाइल फोन कंपनियां हैंडसेट बेंचती हैं और इन ब्रांड के सर्वर तीसरे देश में होते हैं। ऐसे में अगर डेटा चोरी होता है तो ये यूजर्स के लिए बड़ा नुकसान साबित होगा।

देश में हर साल 20-22 करोड़ मोबाइल बिकते हैं, जिसकी कीमत करीब 90000 करोड़ रुपये होती है। देश की बड़ी आबादी इन दिनों चीनी स्मार्टफोन का इस्तेमाल करती है। हाल ही में बढ़ते साइबर हमले और हैकिंग ने दुनिया के सामने साइबर क्राइम को एक बड़ा मुद्दा बना दिया है। ऐसे में सरकार ने देशभर के यूजर्स की सुरक्षा को लेकर यह कदम उठाया है।

आपको बता दें कि शियोमी के दूसरे ब्रांड रेडमी और वीवो ने इंडियन स्मार्टफोन मार्केट में अच्छी पकड़ बना रखी है। यह कंपनियां हर महीने लाखों स्मार्टफोन सेल कर रही हैं। भारत में स्मार्टफोन की सेल के आकड़ों पर नजर डालें तो शियोमी रेडमी दूसरे स्थान पर है। पहले स्थान पर सैमसंग है। रेडमी अपनी सेल मे इजाफा करने के लिए नए ऑफलाइन स्टोर खोल रहा है। वहीं वीवो की सेल में गिरावट दर्ज की गई है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *