वायुसेना प्रमुख – एयर स्ट्राइक में लक्ष्य हासिल किया, पाक विमान एलओसी पार नहीं कर सका

वायुसेना प्रमुख बीएस धनोआ ने कहा है कि बालाकोट एयर स्ट्राइक के बाद पाकिस्तानी सेना का कोई विमान भारत के हवाई क्षेत्र में नहीं घुस पाया था। कोई भी हमारी एलओसी को क्रॉस नहीं कर सकता है। हमने 26 फरवरी को आतंकी कैम्प ध्वस्त कर अपना लक्ष्य हासिल किया। इसके बाद पाक के विमान सिर्फ भारतीय सैन्य ठिकानों पर हमले के लिए आए थे। हमने 27 फरवरी को कुछ घंटों के लिए अपना हवाई क्षेत्र बंद किया था। अगर अब भी पाकिस्तान ने अपना क्षेत्र बंद कर रखा है तो यह उनकी समस्या है।

एयर चीफ मार्शल धनोआ सोमवार को करगिल युद्ध के 20 साल पूरे होने पर ग्वालियर एयरबेस पर एक कार्यक्रम में शामिल हुए। उन्होंने कहा कि हमारी अर्थव्यवस्था जीवंत है और हवाई यातायात बहुत महत्वपूर्ण हिस्सा है। भारतीय वायुसेना ने अपने सिटीजन एयर ट्रैफिक को कभी नहीं रोका। केवल 27 फरवरी को हमने श्रीनगर हवाई क्षेत्र को 2-3 घंटे के लिए बंद कर दिया था। उस वक्त दोनों देशों के बीच तनाव की स्थिति थी, लेकिन हमारी हवाई सेवाओं पर कोई असर नहीं हुआ।

वायुसेना के पास एएन-32 विमान का विकल्प नहीं

धनोआ ने एएन-32 विमान हादसे पर कहा कि हमारे पास इस एयरक्राफ्ट का विकल्प मौजूद नहीं है, ऐसे में एएन-32 विमान पहाड़ी क्षेत्रों में उड़ान भरता रहेगा। पिछले दिनों यह विमान अरुणाचल प्रदेश में क्रैश हो गया था, जिसमें 13 लोगों की जान चली गई थी।