पंजाबी सिंगर हार्ड कौर पर मुकदमा दर्ज, संघ प्रमुख और सीएम पर की थी आपत्तिजनक पोस्ट

राष्ट्रीय स्वयं सेवक संघ प्रमुख मोहन भागवत व उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ पर आपत्तिजनक कमेंट करने के आरोप में पंजाबी गायिका हार्ड कौर पर वाराणसी के कैंट थाने में केस दर्ज किया गया है। यह कार्रवाई दौलतपुर पांडेयपुर निवासी अधिवक्ता शशांक शेखर त्रिपाठी की तहरीर पर पुलिस ने की है। हार्ड कौर पर आईटी एक्ट के तहत केस दर्ज किया गया है।

शिकायतकर्ता ने कहा- आमजन की भावना को ठेस लगी

अधिवक्ता शशांक का आरोप है कि, गायिका हार्ड कौर के नाम से सोशल मीडिया के विभिन्न प्लेटफार्मों पर बने एकाउंट पर आरएसएस प्रमुख मोहन भागवत व मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के प्रति अभद्र व अपमान जनक टिप्पणी करते हुए पोस्ट किया गया। इस पोस्ट से आमजनमानस की भावना को ठेस लगी है।

पीएमओ को भेजी शिकायत

शशांक की तहरीर पर कैंट पुलिस ने धारा 153 ए 124 ए 500,505 व 66 आईटी एक्ट के तहत मुकदमा दर्ज किया है। शशांक ने बताया इसकी शिकायत सीएम के शिकायत पोर्टल, पत्र से सीएम, पीएमओ, डीजीपी, एडीजी सभी को भेजा गया है। साथ ही मेल भी किया गया है।

यह है मामला
गायिका हार्ड कौर ने इंस्टाग्राम समेत अन्य अपने सोशल अकाउंट पर पोस्ट लिखकर आरएसएस प्रमुख मोहन भागवत को न सिर्फ जातिवादी बताया है, बल्कि देश में हुई बड़ी आतंकी घटनाओं के लिए भी उन्हें और संगठन राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ को जिम्मेदार ठहराया है, फिर चाहे वो 26/11 का मुंबई टेरर अटैक हो या पुलवामा हमला। हार्ड कौर ने इस मौके पर हू किल्ड करकरे नामक एक किताब के पहले पेज की तस्वीर भी शेयर की है, जिसे एसएम मुशरिफ ने लिखा है। हार्ड कौर ने इस मौके पर गौरी लंकेश मर्डर केस पर भी कमेंट किया है। उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के विरुद्ध आपत्तिजनक भाषा का उपयोग किया है।