मुंबई – व्हेल की डेढ़ किलो वोमिट के साथ व्यक्ति गिरफ्तार, इसकी कीमत 1.7 करोड़ रुपए

मुंबई पुलिस ने 53 साल के राहुल दुपारे को व्हेल की डेढ़ किलो उल्टी (वोमिट) के साथ गिरफ्तार किया। बाजार में इसकी कीमत 1.7 करोड़ रुपए बताई जा रही है। इसे समुद्र में बहता सोना भी कहा जाता है। खाड़ी देशों में इसकी खासी मांग रहती है। पूरी दुनिया में इसकी तस्करी होती है। भारत में इसकी बिक्री बैन है।

एम्बरग्रिस या वोमिट स्पर्म व्हेल की आंतों से निकलने वाले पदार्थ के जमा होने से बनता है। यह ज्यादा उष्णकटिबंधीय समुद्र में पाया जाता है। इसका इस्तेमाल परफ्यूम, इत्र और अनेक सौंदर्य प्रसाधनों के लिए किया जाता है। यह अल्कोहल, क्लोरोफार्म के साथ जल्दी घुलता और वाष्पीकृत होता है। इसकी खुशबू बहुत अच्छी होती है।

शनिवार से बिछा रखा था जाल

पुलिस ने बताया कि खुफिया सूचना पर मुंबई के उपनगरीय इलाके विद्यानगर के कोमा लेन में रेड डाली थी। यह कार्रवाई पुलिस और वन विभाग की टीम ने की। गिरफ्तारी के बाद आरोपी के खिलाफ वन्य जीव अधिनियम के अंतर्गत कार्रवाई की गई है।

रैकेट के तार गुजरात से जुड़े हैं

पुलिस उपायुक्त (जोन 7) अखिलेश सिंह ने बताया कि आरोपी नागपुर का रहने वाला है। हालांकि, इस रैकेट के मुख्य तार गुजरात से जुड़े हैं। इसमें व्यास नाम का व्यक्ति सरगना है। एम्बरग्रिस की तस्करी का रैकेट भारत में गुजरात और तटीय इलाकों में फैला है।

HAMARA METRO

Social Media Auto Publish Powered By : XYZScripts.com