शिर्डी में साई – 1.5 करोड़ के सिक्के जमा करने के बाद बैंकों ने कहा- अब जगह नहीं है

श्री साईंबाबा संस्थान ट्रस्ट (एसएसएसटी) के सीईओ दीपक मुगलीकर का कहना है कि साईं बाबा मंदिर में सिक्कों के रूप में मिला 1.5 करोड़ रुपए का दान आठ बैंकों में जमा है। अब अधिकारियों ने बैंक में जगह न होने का हवाला देकर सिक्के लेने से मना कर दिया है। इसके बाद दानपात्र में जमा सिक्कों की गिनती शुक्रवार को बंद कर दी गई। एसएसएसटी ने इस मामले में बैंक मुख्यालयों और आरबीआई को पत्र भी लिखा है।

मुगलीकर ने कहा, ‘‘दानपात्र में जमा राशि की गिनती हफ्ते में दो बार बैंक अधिकारियों की मौजूदगी में की जाती है। हर बार यह राशि औसतन 2 करोड़ रुपए होती है जिसमें पांच लाख रुपए के सिक्के होते हैं। नकद राशि और सिक्कों को बारी-बारी से आठ राष्ट्रीयकृत बैंकों में जमा करवाया जाता है।’’

उन्होंने कहा, ‘‘बैंक पिछले कुछ महीनों से हमसे कह रहे हैं कि उनके पास सिक्के रखने की जगह नहीं है। हमने उनसे और आरबीआई से इस समस्या को हल करने की बात कही है।’’ सूत्रों के अनुसार एसएसएसटी से प्राप्त 1.5 करोड़ रुपए मूल्य के सिक्के बैंकों में जमा हैं।

HAMARA METRO

Social Media Auto Publish Powered By : XYZScripts.com