छात्राओं के लिए एनसीवेब में भी है दाखिले का अवसर

 शादी का झांसा देकर लोगों से लाखों रुपये की ठगी करने वाले एक नाइजीरियाई गिरोह के तीन सदस्यों को साइबर क्राइम यूनिट ने गिरफ्तार किया है। आरोपितों ने बताया कि वे वेबसाइट पर फर्जी प्रोफाइल बनाकर लोगों को दोस्ती और शादी के नाम पर शिकार बनाते थे। गिरोह अमेरिका और लंदन के कोड से इंटरनेट के जरिये कॉल करता था।

सरगना सहित दो अन्य भारत में अवैध रूप से रह रहे थे। साइबर क्राइम यूनिट को एक शिकायत मिली थी, जिसमें आरोप लगाया गया था कि कुछ अज्ञात लोगों ने उससे ढाई लाख रुपये ठग लिए हैं। पहले सोशल साइट पर दोस्ती कर फंसाया गया और उसके बाद एक तोहफा भेजने का झांसा दिया।

इसकी एवज में अलग-अलग बैंक खाते में पैसा भी डलवा लिए। जब शिकायतकर्ता ने तोहफा लेने से इन्कार किया तो फंसाने की धमकी दी। शिकायत की जांच के लिए एसीपी आदित्य गौतम की अगुवाई में सब इंस्पेक्टर विजेंद्र, सब इंस्पेक्टर प्रभात और अन्य स्टाफ की एक टीम बनी।

टीम ने साइबर एक्सपर्ट की मदद से नाइजीरिया निवासी फ्रेंकलिन चिनेदू, उकेगबू इमेवुअल और सेमुअल चिजोबा को गिरफ्तार किया। तीनों भारत में अवैध रूप से रह रहे थे। इनके वीजा की समय सीमा पूरी हो चुकी थी। साइबर क्राइम यूनिट के डीसीपी अनेश राय ने बताया कि आरोपितों से हुई पूछताछ में पता चला है कि विदेशी नागरिकों के नाम पर फर्जी प्रोफाइल बनाते थे।

इसके बाद सोशल नेटवर्किंग साइट पर लोगों से दोस्ती कर उन्हें अपने जाल में फंसाते थे। गिरोह कई लोगों को विदेशी कंपनियों में नौकरी लगवाने के नाम पर भी ठग चुका है। आरोपितों से पूछताछ में कई अन्य वारदात के बारे में भी पता लगाया जा रहा है।

Social Media Auto Publish Powered By : XYZScripts.com