वर्ल्ड कप – बांग्लादेश और श्रीलंका मैच आज, इंग्लैंड में पहली बार दोनों टीमें आमने-सामने

  • मैच का प्रसारण स्टार स्पोर्ट्स नेटवर्क पर दोपहर 3:00 बजे से
  • वर्ल्ड कप में एक बार भी श्रीलंका को हरा नहीं पाई है बांग्लादेश की टीम

खेल डेस्क. वर्ल्ड कप के 16वें मैच में मंगलवार को ब्रिस्टल के मैदान पर बांग्लादेश और श्रीलंका की टीम आमने-सामने होंगी। इंग्लैंड के मैदान पर दोनों टीमों का यह पहला मुकाबला है। ओवरऑल बात करें तो दोनों के बीच अब तक 45 वनडे खेले गए हैं। इनमें से बांग्लादेश सिर्फ 7 में ही जीत हासिल कर पाया है, जबकि 36 में उसे हार का सामना करना पड़ा है।

वर्ल्ड कप में दोनों टीमें पहली बार 2003 में आमने-सामने हुई थीं। तब से अब तक दोनों के बीच 3 मैच हुए हैं। सभी में श्रीलंकाई टीम जीत हासिल करने में सफल रही है।

मौसम और पिच रिपोर्ट : इस मैदान पर वर्ल्ड कप का सिर्फ एक मैच खेला गया है। यहां की पिच बल्लेबाजी के अनुकूल है। इस मैदान पर हुए 17 में से सिर्फ 7 मैच में ही पहले बल्लेबाजी करने वाली टीम जीतने में सफल रही है। हालांकि, पिछले कुछ मुकाबलों को ध्यान में रखते हुए टॉस जीतने वाली टीम बल्लेबाजी चुन सकती है। मौसम विभाग ने दिन भर बारिश होने की संभावना जताई है। मैच के दौरान आसमान में बादल छाए रहने के संभावना है। तापमान 12 डिग्री रह सकता है।

बांग्लादेश की मजबूती
मुशफिकुर रहीम : टीम के सबसे अनुभवी बल्लेबाज मुशफिकुर रहीम बांग्लादेशी टीम के ‘संकटमोचक’ माने जाते हैं। वे टीम को मुश्किल परिस्थितियों से निकालकर कई जीत दिला चुके हैं। रहीम ने 208 वनडे में 35.17 के औसत से 5699 रन बनाए हैं। पिछले एक साल में उन्होंने 24 मैच में 51.63 के औसत से 981 रन बनाए। इस दौरान उन्होंने एक शतक लगाया। विकेटकीपिंग करते हुए उन्होंने 25 कैच भी लिए।

शाकिब अल हसन : वनडे में दुनिया के नंबर एक ऑलराउंडर शाकिब अल हसन अपने दम पर मैच जिताने का माद्दा रखते हैं। उन्होंने बांग्लादेश के लिए 201 मुकाबलों में 5977 रन बनाए हैं और 252 विकेट भी लिए हैं। पिछले एक साल में शाकिब ने 16 मैच में 56.46 के औसत से 734 रन बनाए। गेंदबाजी करते हुए 17 विकेट भी हासिल किए।

बांग्लादेश की कमजोरी
प्रदर्शन में निरंतरता की कमी : टीम के प्रदर्शन में निरंतरता की कमी है। उसने दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ अपने पहले मैच में 330 रन का स्कोर किया। हालांकि, न्यूजीलैंड के खिलाफ दूसरे मैच में वह 244 रन पर ही ऑलआउट हो गई। उसके 7 बल्लेबाज 25 से कम के स्कोर पर आउट हुए। इंग्लैंड के खिलाफ उसके गेंदबाजों ने काफी रन दिए और विपक्षी टीम ने 50 ओवर में 6 विकेट पर 386 रन बना डाले। बांग्लादेश की टीम 48.5 ओवर में 280 रन पर ऑलआउट हो गई। श्रीलंका के खिलाफ यह गलती उसे भारी पड़ सकती है।

श्रीलंका की ताकत
दिमुथ करुणारत्ने : श्रीलंकाई कप्तान के पास अनुभव तो सिर्फ 20 वनडे का ही है, लेकिन उनका हालिया प्रदर्शन काफी अच्छा है। उन्होंने पिछले 3 मैच में 79.5 के औसत से 159 रन बनाए हैं। उनकी कप्तानी में श्रीलंका 3 में से 2 वनडे जीतने में सफल रही है। इस मैच में भी वे अपनी टीम को जीत दिलाने की हरसंभव कोशिश करेंगे।

लसिथ मलिंगा : श्रीलंका के इस गेंदबाज के पास 220 वनडे का अनुभव है। पिछले एक साल में उन्होंने 16 मैच ही खेले हैं। इसमें उन्होंने 24 विकेट अपने नाम किए। उन्होंने अफगानिस्तान के खिलाफ मैच में 3 विकेट अपने नाम किए थे। टीम प्रबंधन उनसे दोबारा वैसे ही प्रदर्शन की उम्मीद कर रहा होगा।

श्रीलंका की कमजोरी
मध्यक्रम फ्लॉप : न्यूजीलैंड के खिलाफ वनडे में श्रीलंका के ऊपरी क्रम के बल्लेबाजों ने रन तो बनाए, लेकिन मध्यक्रम पूरी तरह फ्लॉप रहा। टीम ने कुल 201 रन बनाए। इनमें से शुरुआती तीन बल्लेबाजों ने 133 रन बनाए। मध्यक्रम के 4 बल्लेबाज सिर्फ 5 रन ही बना पाए। पाकिस्तान के खिलाफ उसका मैच रद्द हो गया, जिससे उसके मध्यक्रम की फिर से परीक्षा नहीं हो पाई। अब बांग्लादेश के खिलाफ जीत हासिल करने के लिए उसके मध्यक्रम को बेहतर प्रदर्शन करना होगा।

दोनों टीमें :
श्रीलंका : दिमुथ करुणारत्ने (कप्तान), कुसल मेंडिस, धनंजय डिसिल्वा, नुआन प्रदीप, अविष्का फर्नांडो, सुरंगा लकमल, लसिथ मलिंगा, एंजेलो मैथ्यूज, जीवन मेंडिस, कुसल परेरा, थिसारा परेरा, मिलिंडा श्रीवर्धना, लाहिरू थिरिमाने, इसुरू उडाना, जेफ्री वांडर्से।

बांग्लादेश : मशरफे मुर्तजा (कप्तान), तमीम इकबाल, लिटन दास, शाकिब अल हसन, मुशफिकुर रहीम (विकेटकीपर), सौम्या सरकार, शब्बीर रहमान, मेहदी हसन, महमूदुल्लाह, मुस्तफिजुर रहमान, रूबेल हुसैन, मोहम्मद सैफुद्दीन, मोहम्मद मिथुन, अबु जाएद, मोसादेक हुसैन।

HAMARA METRO