पाकिस्तान में आतंकी हमला 4 पुलिस कर्मियों की मौत

पाकिस्तान के बलूचिस्तान में सोमवार को एक बड़े आतंकी हमले में 4 पुलिसकर्मियों को मौत हो गई है, जबकि 11 घायल हुए हैं। यह हमला उस वक्त हुआ जब बलूचिस्तान की राजधानी क्वेटा में लोग एक मस्जिद में नमाज पढ़ने के लिए इकट्ठा हुए थे। पुलिसकर्मी यहां नमाज पढ़ने वालों की सुरक्षा में लगे थे, तभी यहां एक बम ब्लास्ट हुआ। बताया जा रहा है कि यह एक रिमोट कंट्रोल के द्वारा किया गया ब्लास्ट था। पिछले तीन दिनों में यहां दूसरा बड़ा आतंकी हमला हुआ है।

क्वेटा के डिप्टी इंस्पेक्टर जनरल(डीआईजी) रज्जाक चीमा ने इस खबर की पुष्टि करते हुए बताया कि हमारे पुलिसकर्मी यहां मस्जिद की सुरक्षा में तैनात थे। हमले में हमारी रेपिड रिस्‍पॉन्‍स ग्रुप के चार कर्मियों की मौत हो गई है, जबकि घायलों की हालत फिलहाल गंभीर बनी हुई है। यहां के गृहमंत्री जियाउल्लाह लंगोव ने बताया कि इस हमले में 11 लोग घायल हो गए हैं। यह बलूचिस्तान में पिछले तीन दिनों में दूसरा बड़ा हमला है। इससे पहले शनिवार को ग्वादर में आतंकियों ने एक लग्जरी होटल को अपना निशाना बनाया था। इसमें आठ लोगों की मौत हो गई थी। मृतकों में पाकिस्तानी जल सेना का एक सैनिक और तीन आतंकी शामिल थे।

मस्जिद में हुआ यह हमला विस्फोटकों से लदी एक मोटरसाइकिल की मदद से किया गया है, जिसे एक रिमोट के द्वारा कंट्रोल किया जा रहा था। स्थानीय लोगों का कहना है कि कुछ लोग मस्जिद के पास एक मोटरसाइकिल खड़ी करके वहां से निकल गए और इस घटना को अंजाम दिया। इस हादसे से पार्किंग में खड़े कई वाहन क्षतिग्रस्त हो गए, जबिक आस-पास मौजूद कई इमारतों के शीशे टूटकर चकनाचूर हो गए।मस्जिद में हुआ यह हमला विस्फोटकों से लदी एक मोटरसाइकिल की मदद से किया गया है, जिसे एक रिमोट के द्वारा कंट्रोल किया जा रहा था। स्थानीय लोगों का कहना है कि कुछ लोग मस्जिद के पास एक मोटरसाइकिल खड़ी करके वहां से निकल गए और इस घटना को अंजाम दिया। इस हादसे से पार्किंग में खड़े कई वाहन क्षतिग्रस्त हो गए, जबिक आस-पास मौजूद कई इमारतों के शीशे टूटकर चकनाचूर हो गए।

रिपोर्ट के मुताबिक, प्रतिबंधित आतंकी संगठन तहरीक-ए-तालिबान पाकिस्तान ने इस हमले की जिम्मेदारी ली है। पाकिस्तानी प्रधानमंत्री इमरान खान ने लक्षित हमले की कड़ी निंदा की है। खान ने विस्फोट की रिपोर्ट मांगी है और कहा है कि देश आतंकवाद को पूरी तरह से समाप्त करने के लिए पूरी तरह से प्रतिबद्ध है। उन्होंने कहा कि रमजान के पाक महीने में निर्दोष लोगों को निशाना बनाने वालों का कोई धर्म नहीं होता है। बलूचिस्तान के मुख्यमंत्री जाम कमाल ने भी इस हमले की निंदा की है।

Social Media Auto Publish Powered By : XYZScripts.com