बैंकिंग और रेल यात्रा में हुए 5 बड़े बदलाव

  • एसबीआई की डिपॉजिट-लोन दरें आरबीआई के रेपो रेट से लिंक होंगी
  • रेल यात्री चार्ट बनने के 4 घंटे पहले तक बोर्डिंग स्टेशन बदलवा सकेंगे

नई दिल्ली. नए फाइनेंशियल ईयर (2019-20) का पहला महीना खत्म हो गया। अप्रैल में कई नए नियम लागू हुए तो कुछ नियमों में बदलाव भी किया गया। अब मई में भी कई नए नियम लागू हो गए हैं तो कुछ नियमों में बदलाव भी हुए हैं। आइए जानते हैं आम आदमी से जुड़े कौन-कौन से बदलाव लागू हुए हैं।

एसबीआई के बचत खाते में 1 लाख रुपए से ज्यादा जमा पर कम ब्याज मिलेगा

  1. एसबीआई बैंक की डिपॉजिट और लोन की ब्याज दरें आरबीआई की बेंचमार्क दर से जुड़ गई हैं। इसका मतलब यह हुआ कि अब आरबीआई के रेपो रेट में बदलाव होने पर बैंक की जमा और लोन की दरों पर भी असर होगा। इस नियम के लागू होने से ग्राहकों को पहले की तुलना में बचत खाते पर कम ब्याज मिलेगा। हालांकि 1 लाख रुपए से ज्यादा के जमा और लोन की ब्याज दरों पर ही यह नियम लागू होंगे।
  2. डिजिटल लेन-देन: पीएनबी का डिजिटल वॉलेट बंद

    पंजाब नेशनल बैंक के डिजिटल वॉलेट (पीएनबी किटी) का इस्तेमाल करने वालों को झटका लग सकता है। पीएनबी ने अपने ग्राहकों से कहा था कि वह पीएनबी किटी में पड़े पैसे 30 अप्रैल तक या तो खर्च कर लें या फिर आईएमपीएस से अपने बैंक अकाउंट में ट्रांसफर कर लें। कहने का मतलब यह है कि अब आपको पीएनबी किटी की बजाए किसी दूसरे विकल्प या वॉलेट का इस्तेमाल करना होगा।

  3. रेलवे: यात्रियों को कम समय में बोर्डिंग बदलने की सुविधा मिलेगी

    चार्ट बनने से चार घंटे पहले तक आप बोर्डिंग स्टेशन बदलवा सकेंगे। अभी तक इसे सिर्फ 24 घंटे पहले तक ही बदला जा सकता था। मतलब यह कि ट्रेन में यात्रा के लिए टिकट बुक कराते समय आपने जिस बोर्डिंग स्टेशन को चुना है, बाद में उसे बदलवा सकते हैं। हालांकि शर्त यह है कि टिकट कैंसिलेशन पर पैसा रिफंड नहीं दिया जाएगा।

  4. एविएशन: नई फ्लाइट्स शुरू होंगी

    कई अलग-अगल रूट्स पर आज से विमान सेवाएं शुरू हो रही हैं। जेट एयरवेज के अस्थायी तौर पर संचालन बंद करने के बाद स्पाइसजेट, गोएयर और इंडिगो ने नई सेवाएं शुरू करने का ऐलान किया था। जेट एयरवेज के यात्रियों के टिकट रिफंड से जुड़े मामले की सुनवाई भी आज होगी।

  5. टेलीकॉम: आधार के बिना केवाईसी पूरी होगी

    बिना आधार सिम कार्ड खरीद सकेंगे। नया सिम कार्ड लेने के लिए बिना आधार वाला डिजिटल केवाईसी सिस्टम तैयार कर लिया गया है। वर्तमान में इस प्रणाली का परीक्षण चल रहा है। इससे नए सिम कार्ड खरीदने वाले ग्राहक का वेरिफिकेशन कर नंबर 1 से 2 घंटे के भीतर ही चालू कर दिया जाएगा।

Social Media Auto Publish Powered By : XYZScripts.com