गोपाल भार्गव के बिगड़े बोल, कहा- ‘दिग्विजय के मुंह में ‘गुप्तरोग’ है’

गोपाल भार्गव के बिगड़े बोल, कहा- ‘दिग्विजय के मुंह में ‘गुप्तरोग’ है’

 

भोपाल। लोकसभा चुनाव से पहले नेताओं की बयानबाजी का दौर तेज हो गया है।भाजपा के दिग्गज नेता और नेता प्रतिपक्ष गोपाल भार्गव ने कांग्रेस के वरिष्ठ नेता और पूर्व मुख्यमंत्री दिग्विजय सिंह को लेकर विवादित टिप्पणी की है। दिग्विजय द्वारा पुलवामा में हुए आतंकी हमले को दुर्घटना करार देने पर भार्गव ने कहा दिग्विजय सिंह की उंगलियों और मुंह में एक गुप्तरोग है। जब भार्गव बोल रहे थे तब कई बड़े नेता मंच पर मौजूद थे। इस दौरान उन्होंने भार्गव के बयान पर जमकर ठहाके भी लगाए। भार्गव के बयान के बाद सियासी गलियारो में हड़कंप मच गया है। कांग्रेस जमकर पलटवार कर रही है।

दरअसल, बीते दिनों कांग्रेस के वरिष्ठ नेता और मध्यप्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री दिग्विजय सिंह ने एयर स्ट्राइक को लेकर सवाल उठाये थे। दिग्विजय ने पुलवामा हमले को दुर्घटना बताते हुए एयर स्ट्राइक मे मारे गए आंतकियों की संख्या और सबूत मांगे थे।  जिसको लेकर जमकर बवाल मचा हुआ है। पूर्व मुख्यमंत्री शिवराज से लेकर पीएम मोदी ने दिग्विजय को आडे हाथों लिया था। अब दिग्विजय पर हमला बोलने वालों में भाजपा के एक और नेता शामिल हो गए हैं|  नेता प्रतिपक्ष गोपाल भार्गव ने दिग्विजय को लेकर विवादित बयान देकर राजनीति मे हलचल मचा दी है। शुक्रवार को सागर जिले के बामोरा गांव में आयोजित संयोजक पालक कार्यकर्ता सम्मेलन में भार्गव ने कहा कि दिग्विजय सिंह की उंगलियों और मुंह में गुप्त रोग है, इसलिए वह देश के खिलाफ बोलते है। जब तक वो अपनी उंगलियां नहीं चला लेते मोबाइल पर, जब तक अपने मुंह से कुछ देश के खिलाफ बयान नहीं दे देते, तब तक दिग्विजय सिंह को भोजन नहीं नसीब होता।  हैरानी की बात तो ये है कि कार्यक्रम में राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह समेत पार्टी के तमाम नेता और कार्यकर्ता भी मौजूद थे। जो सभा में उनके बयान पर ठहाके लगाते नजर आये। भार्गव के इस बयान के बाद राजनीति में हड़कंप मच गया है, कांग्रेस द्वारा जमकर पलटवार किया जा रहा है।

गौरतलब है कि पुलवामा हमले और एयर स्ट्राइक के बाद जिस तरह देश में राजनीति हो रही है| उसमे दिग्विजय के बयान से सियासत गरमाई हुई है| बीते दिनों दिग्विजय सिंह ने कई ट्वीट कर पुलवामा आतंकी हमले को दुर्घटना बताया था, इससे पहले एयर स्ट्राइक के सबूत मांगने को लेकर आलोचनाओं के शिकार हुए हैं|  दिग्विजय के बयान को लेकर भाजपा चौतरफा घेराबंदी कर रही है| पूर्व सीएम शिवराज से लेकर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी तक दिग्विजय को घेर चुके हैं| हालाँकि दिग्विजय अपने बयान पर कायम हैं और उन्होंने भाजपा नेताओं द्वारा उन्हें देशद्रोही बताने पर ट्विटर पर ही मोदी सरकार को चुनौती दी है कि अगर साहस है तो मुकदमा दर्ज करा दे|
Source:Agency

Social Media Auto Publish Powered By : XYZScripts.com