व्यापार: चीन ने भारत के साथ लोकल करंसी में कारोबार का प्रस्ताव ठुकराया

व्यापार: चीन ने भारत के साथ लोकल करंसी में कारोबार का प्रस्ताव ठुकराया

 

 

नई दिल्ली. चीन ने भारत के उस प्रस्ताव को ठुकरा दिया, जिसमें दोनों देशों के बीच लोकल करंसी में व्यापार करने की बात कही गई थी। ऐसा होने से भारत को चीन के साथ व्यापार घाटा कम करने में मदद मिल जाती। लेकिन, चीन ने प्रस्ताव मानने से इनकार कर दिया।

चीन से आयात में हर साल बढ़ोतरी

साल 2017-18 में भारत से चीन को 13.4 अरब डॉलर (920 अरब रुपए)  का एक्सपोर्ट हुआ, जबकि चीन से आयात 76.4 अरब डॉलर (5348 अरब रुपए) का हुआ। इस तरह भारत को 63 अरब डॉलर का व्यापार घाटा हुआ। चीन से भारत के आयात में हर साल इजाफा हो रहा है। साल 2016-17 में 51.11 अरब डॉलर का आयात हुआ था।

 

भारत ने घरेलू करंसी में व्यापार करने का प्रस्ताव ईरान, रुस और वेनेजुएला को भी दिया है। इन देशों के साथ भी भारत का व्यापार घाटा है। फेडरेशन ऑफ इंडिया एक्सपोर्ट ऑर्गेनाइजेशन के अध्यक्ष गणेश कुमार ने कहा कि सरकार को घेरलू करंसी में एक्सपोर्ट को बढ़ावा देना चाहिए। भारत पहले भी ईरान और रुस से घरेलू करंसी में व्यापार कर चुका है।
Source:Agency

Social Media Auto Publish Powered By : XYZScripts.com