अब तक के सबसे निचले स्तर पर रुपया, और पड़ेगी महंगाई की मार

अब तक के सबसे निचले स्तर पर रुपया, और पड़ेगी महंगाई की मार

 

अंतरराष्ट्रीय स्तर पर डॉलर की मजबूती के चलते भारतीय करेंसी में भी गिरावट का दौर जारी है। शुक्रवार को रुपया पहली बार 71 रुपये के करीब पहुंच गया था। तो अमेरिकी डॉलर के मुकाबले रुपया आज 71.12 के रिकॉर्ड निम्न स्तर तक गिरा।
इसके चलते पेट्रोल-डीजल के दामों में आग लगी हुई है और यह भी अपने उच्चतम स्तर पर पहुंच गया है। वहीं केंद्र सरकार भी प्राकृतिक गैस के दामों में बढ़ोतरी करने जा रही है। इससे पहले शुक्रवार को डॉलर के मुकाबले रुपया 21 पैसे की गिरावट के साथ 70.95 के स्तर पर खुला था। गुरुवार को महीने के अंत में डॉलर की डिमांड और क्रूड ऑयल की कीमतें बढ़ने से रुपया 15 पैसे टूटकर 70.74 प्रति डॉलर के स्तर पर बंद हुआ था।

इंट्रा डे के दौरान रुपये ने 70.90 प्रति डॉलर का निचला स्तर छूआ, हालांकि बाद में इसमें कुछ सुधार दर्ज किया गया। वहीं रुपये के रिकॉर्ड लो पर पहुंचने से एक्सपोर्ट महंगा होने और करंट अकाउंट डेफिसिट बढ़ने की आशंकाएं मजबूत हो गई है। बुधवार को डॉलर के मुकाबले रुपया 49 पैसे की गिरावट के साथ 70.59 के स्तर पर बंद हुआ था।

इस साल रुपया अब तक लगभग 10 फीसदी से ज्यादा टूट चुका है। जानकारों का कहना है कि अगले कुछ हफ्तों में रुपया डॉलर के मुकाबले कमजोर होकर 72 का स्तर छू सकता है, जिससे क्रूड खरीदना और महंगा होगा।

Source:Agency

 

 

Social Media Auto Publish Powered By : XYZScripts.com