दीपाली हत्याकांड: टीकमगढ़ पुलिस फेल, CID जांच शुरू

दीपाली हत्याकांड: टीकमगढ़ पुलिस फेल, CID जांच शुरू..

भोपाल। बहुचर्चित दीपाली हत्याकांड मामले में टीकमगढ़ पुलिस के हाथ कुछ नहीं लग पाया। लोगों का आक्रोश बढ़ता जा रहा है अत: अब यह जांच सीआईडी को सौंप दी गई है। सीआईडी के आईजी केसी जैन ने निवाड़ी में दीपाली के परिजनों से मुलाकात की और भरोसा दिलाया कि जल्द ही हत्यारे सलाखों के पीछे होंगे। दीपाली 15 फरवरी को कॉलेज के लिए रवाना हुई थी फिर वापस नहीं लौटी। तीन दिन बाद नदी किनारे उसकी लाश मिली।

 

बता दें कि अज्ञात लोगों ने दीपाली की हत्या कर बरुआसागर में उत्तरप्रदेश की सीमा से लगी एक नदी में फेंक दिया था। बाद में उसका शव पुलिस ने नदी से बरामद किया था, लेकिन काफी समय बीत जाने के बाद भी पुलिस अभी तक इस हत्याकांड की तह तक नही पहुंच सकी है और अंधेरे में तीर चला रही है। इतना समय बीत जाने के बाद परिजनों में भी जमकर आक्रोश है। वहीं पुलिस के हाथ में घटना से जुड़े कोई भी सुराग हाथ न लगने के बाद मामले की जांच सीआईडी पुलिस को सौंपी गई है।

 

सीआईडी भोपाल के आईजी केसी जैन निवाड़ी पहुंचे थे और दीपाली के घर जाकर माता-पिता को आश्वासन दिया कि जल्द ही आरोपी पुलिस की गिरफ्त में होंगे। बता दें कि 19 साल की दीपाली बीएससी की स्टूडेंट थी। रोज की तरह 15 फरवरी को भी वह घर से कॉलेज को निकली थी लेकिन तीन दिन बाद उसकी बॉडी नदी में तैरती हुई मिली। वहीं दीपाली के परिजनों ने पुलिस पर आरोप लगाया है कि वह सही दिशा में काम नहीं कर रही है, बरना अभी तक हत्यारे पकड़े जा चुके होते।