दिल्ली के अमन विहार में प्रोपर्टी विवाद में 3 लोगो को मारी गोली, हमलावर फरार।

दिल्ली के अमन विहार में प्रोपर्टी विवाद में 3 लोगो को मारी गोली, हमलावर फरार।
शहज़ाद अहमद – नई दिल्ली 
देश की राजधानी में ज़मीनी विवाद में हुई ताबड़तोड़ फायरिंग 3 लोगो को लगी गोली, ताज़ा मामल बाहरी दिल्ली के अमन विहार इलाके का है जहां प्रॉपर्टी विवाद को लेकर बदमाश फायरिंग कर फरार हो गए। बरहाल मोके पर पहुँची पुलिस ने मामला दर्ज कर जांच शुरू कर दी है।
ये है है दिल्ली का अमन विहार इलाका जो बुधवार शाम को गोलियों की तड़तड़ाहट से गूंज उठा। जहां अमन विहार के भाग्य विहार स्थित इस प्लॉट के मालिकाना हक को लेकर 2 गुटों में पहले कहासुनी हो गयी । इस खूनी संघर्ष में घायल हुए लोगो ने बताया कि उन्होंने कई महीने पहले ये प्लाट खरीदा था जिसपर अब कुछ समय से 3-4 लोगो का एक गुट अपना मालिकाना हक जता रहा है जिसको लेकर बुधवार की शाम को हम लोग यहाँ पर आए और दूसरे पक्ष के लोगो को फोन कहा कि अगर आपके पास पेपर हैं तो आप भी हमें दिखा रहा दो हम भी यहीं प्लॉट पर हैं। जिसके बाद 2 कारो में 10-12 लोग आये और झगड़ा करने लगे और ताबड़तोड़ गोलियां चला दीं और वहां से फरार हो गए।
प्रोपर्टी विवाद में हुए इस खूनी संघर्ष में 3 लोग को कूल्हे, टांग, और पैर में गोली लग गयी और उन्हें घायल अवस्था मे मंगोल पुरी के संजय गांधी अस्पताल में  पुलोस ने भर्ती कराया। जहां उनका इलाज चल रहा है। प्राप्त जानकारी के अनुसार हमलावर भी पास के ही मदन पुर डबास  हैं जिनमे से मोगली नाम के युवक ओर उसके अन्य कई साथियों पर वारदात को अंजाम देने का आरोप है। इस हमले में घायल 3 लोगो मे से एक स्थानीय निवासी है जो मोके प खड़ा था उसे टांग में भी गोली लगी है
दिन दहाड़े हुए इस गोली कांड से पूरे इलाके में सनसनी फैल गयी है और स्थानीय लोगो मे डर का माहौल है। वहीं इस वारदात ने कानून व्यवस्था पर भी सवालियां निशान खड़े कर दिए हैं कि कैसे बेख़ौफ़ होकर बदमाश दिनदहाडे सारे आम लोगो को गोलियां मार रहे हैं। और जैसे कोई जंगल राज चल रहा हो। हैरानी की बात तो ये है कि इस तरह की घटनाएं राजधानी में आम हो गयी हैं और अगर देश की राजधानी का अगर ये आलम है तो देश के दूसरे हिस्सों का क्या हाल होगा। ऐसा लगता है कि जैसे पुलिस, प्रशासन और कानून अब लाचार हो गया है।
बरहाल मोके पर पहुँची अमन विहार थाना पुलिस ने घायलों को अस्पताल में भर्ती करवा दिया है जहां उनका इलाज चल रहा है। साथ ही पुलिस मामला दर्ज कर तफ़्तीश में जुट गई है। और हमलवारों की तलाश कर रही है। लेकिन इस वारदात ने साबित कर दिया है कि राजधानी में अपराधियों को न अब तो कानून का कोई डर है और न ही पुलिस का कोई ख़ौफ़।
Social Media Auto Publish Powered By : XYZScripts.com