नीता अंबानी 3 लाख रुपए के कप में पीती चाय हैं , खुद देखती हैं किचन का हिसाब-किताब

नीता अंबानी 3 लाख रुपए के कप में पीती चाय हैं , खुद देखती हैं किचन का हिसाब-किताब

प्रसिद्ध उद्योगपति मुकेश अंबानी की पत्नी और मशहूर बिजनेस वुमेन नीता अंबानी कल अपना 55वां जन्मदिन मना चुकी हैं. 1963 में जन्‍मी नीता अंबानी आज देश की सबसे अमीर महिलाओं में से एक हैं. पिछले दिनों मुकेश अंबानी के ड्राइवर की सैलरी सोशल मीडिया पर चर्चा का केंद्र रही. इसके साथ ही अंबानी फैमिली में ऐसा बहुत कुछ हैं जिसे सुनकर आप चौंक जाएंगे. पिछले दिनों नीता अंबानी के फोन को लेकर भी एक खबर सोशल मीडिया में वायरल हुई थी.

अपनी लाइफ स्टाइल को लेकर नीता अंबानी ने कई बार सुर्खियां बटोरी हैं. बेटे के साथ वजन कम करने का मामला हो या उनका डांस का शौक, वो हमेशा ही अव्वल साबित हुई हैं. एक इंटरव्यू के दौरान भी उन्होंने अपना शौक स्‍वीमिंग, डांसिंग और बच्‍चों के साथ समय बिताना बताया था. उन्होंने कहा था डांस मेरे लिए मेडिटेशन की तरह है. यह मेरा भगवान से सीधा कनेक्‍शन है. उन्होंने कहा था कि मुझे लगता है हर महिला के पास कुछ ऐसा होना चाहिए जिससे वह खुद के साथ समय बिता सकें.

नीता अंबानी तमाम व्यस्तता के बाद भी रसोईघर का हिसाब-किताब खुद ही देखती हैं. नीता अंबानी के दिन की शुरुआत एक प्याली चाय के साथ होती है. एक इंटरव्यू के दौरान उन्होंने बताया था कि वह जापान के सबसे पुराने क्राकरी ब्रांड नोरिटेक के कप में चाय पीती हैं. इस ब्रांड की क्राकरी में गोल्ड का बॉर्डर होता है और इसके 50 पीस वाले सेट की कीमत डेढ़ करोड़ रुपए है. इस तरह उनके एक कप की कीमत 3 लाख रुपए हुई.

शादी से पहले मिडल क्लास फैमिली से नाता रखने वाली नीता अंबानी क्लासिकल डांसर बनना चाहती थीं. उनकी लाइफस्टाइल के बारे में बताया जाता है कि वह कभी भी अपना फुटवियर रिपीट नहीं करतीं. वह गार्सिया, जिम्मी चू, पाड्रो, पेलमोड़ा और मार्लिन ब्रांड के जूते और सैंडल पहनती हैं. मुकेश अंबानी ने उन्हें मुंबई की एक सड़क पर प्रपोज किया था, इसके बाद उन्होंने ‘हां या ना’ करने तक कार आगे बढ़ाने से मना कर दिया था.

एक इंटरव्यू में नीता अंबानी ने बताया था कि जब उनके ग्रुप के स्कूल में एडमिशन शुरू होते हैं तो वह अपने फोन को स्विच ऑफ कर देती हैं. ऐसा वह स्कूल में एडमिशन के लिए आने वाली सिफारिशों से बचने के लिए करती हैं. दरअसल धीरूभाई अंबानी स्कूल की गिनती मुंबई के टॉप 10 स्कूलों में होती है, ऐसे में लोग उसमें अपने बच्चों का एडमिशन कराने के लिए तरह-तरह की सिफारिशें करते हैं.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Social Media Auto Publish Powered By : XYZScripts.com